किसी को अपने वश में कैसे करें

kisi ko apne vash mai kaise karein

किसी को अपने वश में कैसे करें ??

 

अगर आप चाहते है की कोई विशेष इंसान आपके वश में हो जाये और वो बिलकुल वैसा ही करे जो आप चाहते है तो आप हमारे इस दिए गए उपाय को कर सकते है || इस उपाए को करने से आप किसी को भी अपनी उंगलिओं पर नचा सकते है क्यूंकि इस उपाए से वो व्यक्ति विशेष आपकी हर बात मानेगा और आपके लिए कुछ भी करने के लिए त्यार हो जायेगा और वो आपको किसी काम के लिए कभी भी न नहीं बोलेगा ||

जब किसी के ऊपर यह उपाय कर दिया जाता है तो उसका न केवल शरीर पर बल्कि दिमाग के ऊपर भी नियंत्रण हो जाता है || इस उपाय से आप किसी की भी सोच बदल सकते है और किसी के भी दिल में अपने लिए प्यार भर सकते है || यह उपाए पौराणिक वेदों में से लिया गया है और यह उपाय बिलकुल अचूक है ||

 

|| सबसे खतरनाक 10 शाबर सिद्ध मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

इस उपाय को आप किन कामो के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं :-

 

1. अगर कोई आपसे रूठ गया है तो उसको मनाने के लिए ||

 

2. किसी विशेष व्यक्ति के दिल में अपने लिए प्यार जगाने के लिए ||

 

3. किसी के साथ दुश्मनी ख़त्म करने के लिए ||

 

4. किसी से अपना जरुरी काम करवाने के लिए ||

 

5. अपना खोया प्यार वापिस पाने के लिए ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

6. नौकरी में तरक्की पाने के लिए ||

 

7. वीज़ा पाने के लिए ||

 

8. अपनी शादीशुदा ज़िंदगी को खुशहाल बनाने के लिए ||

 

इस उपाय को करने के लिए चाहिए आपको यह सामान :-

 

1. एक पान का पत्ता ||

 

2. थोड़ा सा सिन्दूर ||

 

3. अनार के पेड़ की टहनी ||

 

4. लाल धागा ||

 

5. थोड़े से कच्चे चावल||

 

6. दो इलायचियां ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

इस उपाय को करने का पूरा तरीका :-

 

1. सबसे पहले सिन्दूर में कुछ बूंदे पानी सिन्दूर में मिला लें ||

 

2. अब अनार के पेड़ की टहनी को कलम की तरह इस्तेमाल करके पान के पत्ते के ऊपर सिन्दूर से उस इंसान का नाम लिखें जिसको आपने वश में करना है||

 

3. अब दो इलाइचिओ को अपने सर के ऊपर से सात बार घुमाएं ||

 

4. फिर उनको पान के पत्ते के ऊपर रख दें ||

 

5. फिर नीचे दिए गए मंत्र को 186 बार जाप करें ||

 

|| वशीकरण से जुड़ी नयी नयी जानकारी के लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मंत्र: ||

 

“ओम हारीम कुरूम पिसचिनी ( जिसका वशीकरण करना है उस व्यक्ति का नाम लें) मं वशियम भवन्ति “

 

6. फिर थोड़े से चावल अपने हाथ पर रखकर उनके ऊपर तीन बार फूंक मार दें ||

 

7. चावलों को पान के पत्ते के ऊपर रख दें ||

 

8. अब सारी सामग्री को पान के पत्ते में लपेट लें और लाल धागा बाँध दें ||

 

9. फिर उसको नदी या झील के किनारे पर जाकर दबा दें ||

 

10. बहुत जल्द आपको इसका रिजल्ट मिल जायेगा ||

 

इस उपाय को करने के लिए आवश्यक जानकारी :-

 

1. इस उपाए को पूर्णिमा की रात को करें ||

 

2. यह उपाए आप चाँद की चांदनी में ही करें ||

 

3. उपाए के बारे में किसी को कुछ न बताएं ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

kisi ko vash mai krne ka mantra hindi

kisi ko vash mai krne ka mantra hindi

किसी को वश में करने का मंत्र हिंदी

 

वशीकरण एक ऐसी विधि है जिसको अगर किसी के लिए कर दिया जाये तो वो इंसान आपके नियंत्रण में आ जाता है और वो बिलकुल वैसा ही करता है जैसा की आप उसको करने को कहते है || यह एक बहुत ही उपयोगी विधि है जिससे जीवन के कई गंभीर मसले हल किये जा सकते है || जब हम यह विधि किसी के ऊपर कर देते है तो उस इंसान का न केवल शरीर आपके नियंत्रण में आ जाता बल्कि उसकी सोच भी आपके नयंत्रण में आ जाती है और आप जैसा चाहोगे वो वैसा ही सोचेगा || अगर कोई इंसान आपसे नफ़रत करता है तो इस विधि से उसकी नफ़रत को आप प्यार में भी बदल सकते हैं ||

अगर आप किसी को बहुत पसंद करते है मगर उसको कहने से डरते है तो भी आप इस विधि को करने से उस इंसान के दिल में अपने लिए प्यार जगा सकते हैं || अगर आपका साथी किसी कारन आपसे रूठ गया है और आपसे बात नहीं कर रहा तो इस विधि की मदद से आप उकसे दिल से सारी गलतफेहमी दूर कर सकते है और सारी नाराज़गी दूर कर सकते है ||

 

|| सबसे खतरनाक 10 शाबर सिद्ध मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

यही विधि तब बहुत काम आती है जब कोई आपका जरुरी काम नहीं कर के दे रहा हो या आनाकानी कर रहा हो तब यह विधि से आप उस व्यक्ति से अपना कोई भी काम करवा सकते हैं || यह विधि सदिओं से इस्तेमाल की जा रही है मगर इसको करने का सही और पूरा तरीका बहुत काम लोगों को पता है || हम आपको यहाँ आपको पूरी और सही विधि बताएँगे जिससे आप किसी भी इंसान को अपने वश में कर सकोगे ||

 

वशीकरण मंत्र को आप कौन से कामो के लिए इस्तेमाल कर सकते है :

 

1. अपना खोया प्यार वापिस पाने के लिए ||

 

2. मनचाहे इंसान से शादी करने के लिए||

 

3. किसी का प्यार हासिल करने के लिए||

 

4. अपनी शादीशुदा ज़िंदगी खुशिओं से भरने के लिए||

 

5. लव मैरिज के लिए माँ बाप को मनाने के लिए||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

6. किसी से अपना जरूरी काम करवाने के लिए ||

 

7. नौकरी में तरक्की पाने के लिए ||

 

8. वीजा और विदेश यात्रा के लिए ||

 

9. दुश्मनी ख़त्म करने के लिए ||

 

इस विधि को करने के लिए आपको चाहिए यह सामान:

 

1. एक बेल पत्र ||

 

2. थोड़ी सी हल्दी ||

 

3. दो बूँद गंगाजल ||

 

4. एक निम्बू ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

इस मंत्र विधि को करने का पूरा तरीका :

 

1. सबसे पहले थोड़ी सी हल्दी में दो बूँद गंगाजल मिला लें ||

 

2. फिर अपने दाएं हाथ की तर्जनी ऊँगली से हल्दी के साथ बेल पत्र पर उस इंसान का नाम लिखें ||

 

3. अब कागज़ को तीन बार फोल्ड कर लें ||

 

4. निम्बू को दो भागों में काट लें ||

 

5. फिर दोनों भागों के बीच में कागज़ रखकर निम्बू अपने हाथो में पकड़ लें ||

 

6. अब नीचे दिए गए मन्त्र को 171 बार जाप करें ||

 

|| वशीकरण से जुड़ी नयी नयी जानकारी के लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मंत्र: ||

 

“ओम हारीम कुरूम पिसचिनी ( यहाँ पर जिस व्यक्ति का वशीकरण करना हो उसका नाम लें) मं वशियम भवन्ति”

 

7. उसके बाद निम्बू के ऊपर फूंक मारें ||

 

8. निम्बू को अपने सर के ऊपर से सात बार घुमाएं ||

 

9. फिर निम्बू को कही खाली जगह पेड़ के नीचे दबा आएं ||

 

10. 24 घंटे के अंदर आपको इसका असर उस इंसान में दिख जायेगा ||

 

इस विधि को करने के लिए आवश्यक जानकारी :

 

1. यह विधि आप केवल मंगलवार को सूर्यास्त के बाद करें ||

 

2. निम्बू को विधि करने के तुरंत बाद ही दबाना है ||

 

3. इस बात का ख्याल रखें की जिस दिन उस इंसान को विधि के बारे में पता चला उसी दिन विधि का असर ख़त्म हो जायेगा ||

 

4. लड़कियां अपने माहवारी के दिनों में इस विधि का उपयोग न करें ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

केमद्रुम योग ( Kemdrum Yoga)

 

केमद्रुम योग (Kemdrum Yoga)

 

जब किसी जातक की कुंडली में चंद्र ग्रह के अगले घर और पिछले घर में कोई ग्रह नहीं हो तो केमद्रुम योग बनता है || जैसे चन्द्रमा बाहरवें घर में हो तो उस घर में सूर्य नहीं आना चाहिए यदि वाहरवें घर में सूर्य आ जाये तो चन्द्रमा का बल कमजोर हो जाता है  और फिर चन्द्रमा लाभ नहीं दे पाता है न ही शुभता का लाभ होता है और न ही अशुभता से हानि होती है || सूर्य के बिना और कोई भी ग्रह आ जाये तो उसे अनफा योग कहते है || और अगर दोनों ओर ग्रह हों तो उसे दुरुधरा योग कहते है || और अगर चंद्र ग्रह के अगले घर और पिछले घर में कोई ग्रह नहीं हो तो केमद्रुम योग बनता है ||

 

 

उपाय

 

|| मांगलिक ( कुजा )दोष से बचने के सबसे आसान और चमकारी उपाय – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

1. जिस व्यक्ति की कुंडली में केमद्रुम योग है तो उसे अकेले नहीं रहना चाहिए जब इस ग्रह का व्यक्ति अकेला रहता है तो उसके मन और मस्तिष्क में बुरे विचार आने लगते हैं क्योकि चन्द्रमा मन का स्वामी है और व्यक्ति मानसिक रूप से पीड़ित भी हो सकता है और योग की प्रबलता के अनुसार मानसिक संतुलन बिगड़ भी सकता है क्योकि कुंडली के घर में जब चन्द्रमा अकेला होता है तो ये योग बनता है ||

 

2. केमद्रुम योग के जातको को पूर्णिमा के उपवास करने चाहिए जब सोमबार के दिन पूर्णिमा आये तब उस दिन से पूर्णिमा के उपवास प्रारम्भ करने चाहिए जातक को उपवास लगातार 4  वर्ष तक करने चाहिए ||

 

3. सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए और गाये का कच्चा दूध शिवलिंग पर “ॐ नमः शिवाये” का जाप करते हुए चढ़ाना चाहिए ||

 

4. बहते हुए पानी में जौं प्रवाह करे इस से आपको बहुत लाभ होगा ||

 

5. केमद्रुम योग वाले व्यक्तियों को वर्ष में एक बार दशांश हवन करना चाहिए ||

 

6. घर में दक्षिणाव्रती शंख स्थापित करना चाहिए तथा इसकी पूजा करनी चाहिए ||

 

|| ये मंत्र कर देगा आपकी पुत्र संतान की इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

7. अपने जन्म दिवस पर महामृत्युंजय मंत्र का 108  बार जप करना चाहिए ||

 

8. दो मुखी, चार मुखी और पांच मुखी का कोई भी एक रुद्राक्ष लेकर, रुद्राक्ष मंतर से अभिमंत्रित कर के उसका लॉकेट बना कर सोमबार के दिन धारण इस से भी आपको बहुत लाभ होगा ||

 

9. बीसा यंत्र को अभिमंत्रित कर के अपने घर में रखें या मूंगा नग चाँदी की अंगूंठी बना कर अनामिका ऊँगली में धारण करें ||

 

लक्षण

 

1. केमद्रुम योग वाले व्यक्ति हमेशा अकेला रहता है और इनका मानसिक संतुलन भी ठीक नहीं रहता है ।।

 

सकारात्मक

 

1. केमद्रुम योग वाले लोगों का जीवन संघर्ष और अभाव ग्रस्त जीवन होता है ।।

 

2. हमारे देश की प्रथम महिला आईपी. एस किरण बेदी योग भी केमद्रुम योगों के कारण राजयोग में परिवर्तन हुआ है ।।

 

|| केमद्रुम योग से जुड़ी नयी नयी जानकारी के लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

नकारात्मक

 

1. केमद्रुम योग वाले लोगों का जीवन संघर्ष और अभाव ग्रस्त जीवन होता है ||

 

2. केमद्रुम योग वाले व्यक्ति का जीवन बहुत दुःखमय का और आर्थिक स्थिति से बहुत गरीब होता है ।।

 

3. इस योग वाले व्यक्ति को आजीविका संबधी कार्यो में परेशानियों का सामना करना पड़ता है ।।

 

4. इस योग वाले व्यक्तियों का मन भटका हुआ तथा असंतुष्ट स्थिति  बनाये रखता है ।।

 

5. इस योग वाला व्यक्ति हमेशा दूसरों पर निर्भर रहता है ।।

 

6. केंद्रुम योग में जातक अपने घर परिवार से दूर रहता है ।।

 

|| कैसे करें अपनी सभी इछाये पूरी सिर्फ एक चक्र से – जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

केमद्रुम योग कैसे खत्म होता है ??

 

1. केमद्रुम योग में जातक की कुंडली में चन्द्रमा के दूसरे घर और चौथे घर में कोई भी ग्रह न हो तो तब भी ये योग भंग हो जाता है ।।

 

2. यदि चन्द्रमा के साथ बुध ग्रह, गुरु ग्रह या शुक्र ग्रह साथ बैठते है तो भी ये योग भांग हो जाता है ।।

 

3. अगर चन्द्रमा से अलावा केंद्र में  कोई भी ग्रह हो तो ये योग भंग हो जाता है ।।

 

4. चन्द्रमा पर अगर गुरु की दृष्टि हो तो भी यह योग भंग हो जाता है ।।

 

5. बीसा यंत्र को अभिमंत्रित कर के अपने घर में रखें या मूंगा नग चाँदी की अंगूंठी बना कर अनामिका ऊँगली में धारण करें ।।

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

kamakhya sindoor

कामाख्या सिन्दूर

 

क्या होता है कामाख्या सिन्दूर ??

 

माँ कामख्या देवी सती का स्वरूप है जो की राजा दक्ष की पुत्री थी और वो भगवान शिव जी से प्रेम करती थी और उनसे शादी करना चाहती थी मगर राजा दक्ष को ये मंजूर नहीं था || माँ सती ने भगवान शिव से पिता की इच्छा के विरुद्ध भगवन शिव से शादी कर ली तो राजा दक्ष ने भगवान् शिव को बहुत अप शब्द बोले जिनको सती बर्दाश्त नहीं कर पायी इसलिए उन्होंने आत्म दाह कर लिया || सती को मृत देख कर भगवान शिव को बहुत गुस्सा आ गया और वो सती के शरीर को उठा कर तांडव करने लगे जिससे पूरा ब्रह्माण्ड कांपने लगा यह देखकर भगवान विष्णु ने शिव जी का सती से मोह ख़त्म करने के लिए अपने सुदर्शन चक्र से माँ सती के शरीर के 51 भाग कर दिए ||

 

यह सारे भाग पृथ्वी पर अलग अलग जगह पर गिरे और सती का जो योनि भाग था वो असम की राजधानी गुहाटी से 8 किलोमीटर दूर नीलांचल पर्वत पर जाकर गिरा जहा पर माँ कामख्या के 51 शक्ति पीठो में से एक है और यह सबसे शक्तिशाली पीठ है || यही पर माँ कामख्या देवी का एक बहुत भव्य मंदिर है || इस मंदिर में माँ कामख्या की कोई मूर्ति स्थापित नहीं की गयी है केवल एक योनि आकृति का पत्थर स्थापित किया गया है || इस मंदिर की महिमा यह है की हर साल तीन दिन के लिए इस योनि से रजस्व होता है || इस मंदिर में उन् तीन दिनों के बाद खुलने पर सबको एक लाल रंग के पत्थर नुमा दिखने वाला सिन्दूर दिया जाता है जिसमे कुछ चमकने वाले कण भी होते है इसी को कामाख्या सिन्दूर कहा जाता है ||

 

|| नीचे कामाख्या सिन्दूर को इस्तेमाल करने की पूरी विधि दी हुई है कृपा इसे इस्तेमाल करने से पहले ध्यान से पढ़ ले ||

 

कामख्या सिन्दूर के क्या क्या लाभ है ??

 

(1) शादी में रुकावटें आ रही हो तो कामाख्या सिन्दूर का विधि पूर्वक इस्तेमाल करके वो रुकावटों से मुक्ति पायी जा सकती है ||

 

(2) खोया प्यार वापिस पाने के लिए ||

 

(3) पति पत्नी में होने वाली अनबन को दूर करने के लिए ||

 

(4) किसी भी इंसान का प्यार हासिल करने के लिए ||

 

(5) अपने माता पिता को लव मैरिज के लिए मनाने के लिए ||

 

|| कैसे करें अपनी सभी इछाये पूरी सिर्फ एक चक्र से – जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

(6) मनचाहे इंसान से शादी करने के लिए ||

 

(7) औलाद पाने के लिए ||

 

(8) पुत्र प्राप्ति के लिए ||

 

(9) किसी भी इंसान का वशीकरण करने के लिए ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

कैसे करते है कामख्या सिन्दूर से किसी का वशीकरण ??

 

(1) सबसे पहले कामख्या सिन्दूर को पीसकर पाउडर बना लें ||

 

(2) फिर उसको चांदी की या ताम्बे की डब्बी में डाल लें ||

 

(3) डब्बी को खोलकर अपने सामने रख लें ||

 

(4) अब नीचे दिए गए मन्त्र का 131 बार जाप करें ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“कामाख्याम कामसम्पन्ना कामेश्वरी हरप्रिया | कमाना देहि में नित्य कामेश्वरी नमोस्तुते ||”
” कामाख्याये वरदे देवी नीलपावर्ता वासिनी | त्व देवी जगत माता योनिमुद्रे नमोस्तुते || “

 

(5) एक मिटटी से बना पुतला लें ||

 

(6) पुतले के साथ उस इंसान की फोटो लाल धागे से बांध दें ||

 

(7) फिर उसको लाल कपडे पर रख दें ||

 

(8) उसके सामने एक सफ़ेद मोमबत्ती जला दें ||

 

(9) दिए गए मन्त्र को 31 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“कामाख्याम कामसम्पन्ना कामेश्वरी हरप्रिया | कमाना देहि में नित्य कामेश्वरी नमोस्तुते ||”
” कामाख्याये वरदे देवी नीलपावर्ता वासिनी | त्व देवी जगत माता योनिमुद्रे नमोस्तुते || “

 

|| ये मंत्र कर देगा आपकी पुत्र संतान की इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

(10) अब थोड़ा सा कामाख्या सिन्दूर फोटो पर लगा दें ||

 

(11) थोड़ा सा अपने माथे पर लगा लें ||

 

(12) पुतले को लाल कपडे में बांधकर शमशानघाट में छोड़ आएं ||

 

(13) बहुत जल्द वो इंसान आपके वश में होगा ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Sphatik mala

 स्फटिक माला (Sphatik mala )

 

क्या होता है स्फटिक (Sphatik ) ??

 

स्फटिक अन्य रत्नो की तरह एक रत्न होता है जो की सिलिकॉन और ऑक्सीजन के एटम्स के मिलने से बना होता है यह देखने में बिलकुल कांच जैसा होता है और पारदर्शी होता है || इसका कोई भी रंग नहीं होता और इसको प्योर स्नो और वाइट क्रिस्टल भी कहा जाता है || यह रत्न बहुत ठंडी प्रवति का होता है और इसकी खूबी यह है की इसको जितनी भी धूप में रखा जाये फिर भी यह गरम नहीं होता ठंडा ही रहता है ||

 

इस रत्न को आभूषण के तौर पर शरीर पर धारण किया जाता है इसके बने हुए हार और कंगन बहुत लोकप्रिय है || स्फटिक के मनको में बहुत सी बीमारियों को ठीक करने की शक्ति होती है और रक्त विकार दूर करने के लिए भी बहुत उपयोगी है || पुराने समय से हमारे ऋषि, मुनि और वैद इसका इस्तमाल करते आये हैं || वैद इसका भस्म का इस्तेमाल बहुत सारी बीमारयां ठीक करने के लिए इस्तेमाल करते थे और अब भी किया जाता है || वेद शास्त्रों में इसके इस्तमाल के बहुत से फायदे बताये गए हैं ||

 

|| नीचे स्फटिक माला को इस्तेमाल और धारण करने की पूरी विधि दी हुई है कृपा इसे इस्तेमाल करने से पहले ध्यान से पढ़ ले ||

 

स्फटिक माला (Sphatik mala ) के उपयोग :

 

(1) जो भी इंसान स्फटिक के मनको की माला पहनता है वो शांत रहता है और उसको कभी भी गुस्सा नहीं आता ||

 

(2) स्फटिक माला को पहनने से इंसान सेहतमंद रहता है और बीमारियों से बचा रहता है ||

 

(3) स्फटिक इंसान के शरीर का रक्त चाप ठीक रखता है ||

 

(4) यह माला इंसान से भूत प्रेत और नकारात्मक शक्तिओं को दूर रखती है ||

 

(5) 108 मनको वाली स्फटिक माला का इस्तेमाल करके नीचे दिया गया सरस्वती मन्त्र का सात सोमवार लगातार जाप करने से हर कार्य में सफलता मिलती है ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

|| सरस्वती मंत्र : ||

 

“सरस्वती नमस्तुभ्यं वरदे कामरुपिणि विद्यारंबम करिष्यामि सिद्धि र बावतुमे साधा”

 

(1) बुधवार के दिन स्फटिक माला का इस्तेमाल करके माँ लक्ष्मी का माला के तीन चक्र का जाप करने से हर में लक्ष्मी आती है और धन में वृद्धि होती है || मन्त्र का जाप चार बुधवार लगातार करना है ||

 

|| मंत्र : ||

 

“ॐ ह्रीं श्रीम लक्ष्मीभयो नमः॥”

 

|| ये मंत्र कर देगा आपकी पुत्र संतान की इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

(1) घर में सुख शांति के लिए और घर में खुशीआं बढ़ाने के लिए स्फटिक माला का इस्तेमाल करके माँ दुर्गा का यह मन्त्र रोज़ जाप करें || एशिया करने से आपके घर में कभी मन मुटाव नहीं होगा और घर में शांति और बरकत बानी रहेगी ||

 

|| मंत्र : ||

 

” हे गौरी शंकरधंगी ! यथा तवं शंकरप्रिया,
तथा मां कुरु कल्याणी ! कान्तकान्तम् सुदुर्लभं”

 

जरुरी जानकारी :

 

|| कैसे करें अपनी सभी इछाये पूरी सिर्फ एक चक्र से – जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

(8) स्फटिक माला को पहनने से पहले माला को इस्तेमाल करने से पहले माला को मंत्रो द्वारा प्राण प्रतिष्ठित किया जाता है इसके बिना यह माला किसी काम की नहीं है || अगर आप चाहते है स्फटिक माला का इस्तेमाल करना तो यह दो बातें जरूर याद रखें की एक तो स्फटिक माला के मनके बिलकुल असली हो और दूसरा माला को मंत्रो द्वारा प्राण प्रतिष्ठित किया गया हो ||

 

स्फटिक माला को प्राण प्रतिष्ठित करने का पूरा तरीका :

 

(1) सबसे पहले पूर्णिमा वाले दिन सूर्यास्त के समय नहा कर सफ़ेद कपडे धारण कर लें ||

 

(2) फिर उत्तर दिशा की तरफ मुंह कर के बैठ जाएं ||

 

(3) अब अपने सामने लाल रंग का कपडा बिछा लें ||

 

(4) फिर स्फटिक माला को ताम्बे के पात्र में साफ़ पानी में डाल दें ||

 

(5) उसको लाल कपडे के ऊपर रख दें ||

 

(6) फिर उसके सामने एक घी का दिया जला लें ||

 

(7) अब नीचे दिए गए मन्त्र का 111 बार जाप करें ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मंत्र : ||

 

” ऐं ह्रीं अक्षमालिकायै नमः।
ॐ मां माले महामाये सर्व शक्ति स्वरूपिणि।
चतुर्वर्गः त्वयि न्यस्तः तस्मान्मे सिद्धिदा भव।।”

 

(8) यह क्रिया आपने 11 दिन तक लगातार करनी है ||

 

(9) 11 वें दिन माला को दोनों आँखों पर लगाकर धारण कर लें | |

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Gidar singhi

गीदड़ (सियार) सिंघी

 

गीदड़ एक वन्य प्राणी है जिसे सियार भी कहा जाता है इस प्रजाति के बहुत सी नस्ले होती है और एक नस्ल ऐसी भी होती है जिसके माथे के ऊपर एक बहुत छोटा सा सींघ होता है जो थोड़ा सख्त होता है और उसके ऊपर भूरे और काले रंग के बाल होते हैं || इसको गीदड़ सिंघी कहा जाता है मगर सींग वाला गीदड़ बहुत हे दुर्लभ नस्ल है ||

 

गीदड़ सिंघी की ज्योतिष में बहुत ही महत्वता है क्यूंकि इसमें नकारात्मक ऊर्जाओं को ख़त्म करने और सकारत्मक ऊर्जाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने की शक्ति होती है || गीदड़ सिंघी के उपयोग से इंसान बहुत ही भाग्यशाली बन सकता है और बहुत सारा धन प्राप्त कर सकता है ||

 

अगर गीदड़ सिंघी को अभिमंत्रित कर लिया जाये तो इसकी शक्ति कई गुना बढ़ जाती है || गीदड़ सिंघी को सिन्दूर की डिब्बी में बंद करके रखा जाता है ||

 

|| नीचे दी हुई विधि को कृपा उसे इस्तेमाल करने से पहले उसे ध्यान से पढ़ लें क्योंकि इस विधि में गलती की कोई गुंजाइश नहीं है ||

 

गीदड़ सिंघी के उपयोग :

 

(1) धन और सम्पति प्राप्त करने के लिए ||

 

(2) भाग्यशाली बनने के लिए ||

 

(3) किसी भी क्षेत्र में सफलता हासिल करने ले लिए ||

 

(4) पति पत्नी के बीच की अनबन ख़त्म करने के लिए ||

 

(5) व्यवसाय में अधिक मुनाफा कमाने के लिए ||

 

(6) मनचाहा प्यार पाने के लिए ||

 

(7) किसी को भी अपने तरफ आकर्षित करने के लिए ||

 

(8) क़र्ज़ मुक्त होने के लिए ||

 

(9) कोर्ट केस में जीत हासिल करने के लिए ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

कैसे करते है गीदड़ सिंघी का प्रयोग??

 

गीदड़ सिंघी को उपयोग में लाने से पहले उसको अभिमंत्रित किया जाता है जिससे उसकी शक्ति कई गुना हो जाती है फिर आप उसके इस्तेमाल से अपने मन की कोई भी इच्छा पूरी कर सकते है ||

 

गीदड़ सिंघी अभिमंत्रित करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले अमावस्या की रात को लाल कपडे के ऊपर गीदड़ सिंघी रख लें ||

 

(2) फिर उसके ऊपर थोड़ा सा गंगाजल छिड़कें ||

 

(3) फिर गीदड़ सिंघी के ऊपर थोड़ा सा कामाख्या सिन्दूर डालें ||

 

(4) अब उसके साथ पांच लौंग और एक सुपारी रख दें ||

 

(5) गीदड़ सिंघी के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाएं ||

 

(6) अब कुछ चावल अपनी मुठी में लेकर नीचे दिए गए मन्त्र का 101 बार जाप करें ||

 

|| सबसे खतरनाक 10 शाबर सिद्ध मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ ओम ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चै:”

 

(7) अब चावलों को गीदड़ सिंघी के ऊपर डाल दें ||

 

(8) यह क्रिया आपने तीन सोमवार लगातार करनी है ||

 

(9) तीसरे सोमवार को गीदड़ सिंघी को सिन्दूर की डिब्बी में रख लें ||

 

(10) और बाकी सामग्री किसी पेड़ के नीचे दबा देंऔर बाकी सामग्री किसी पेड़ के नीचे दबा दें ||

 

(11) हर मंगलवार को गीदड़ सिंघी को माथे पर लगाएं और उस पर सिन्दूर चढ़ाएं ||

 

|| गोमती चक्र के 10 चमत्कारी रहस्य जो कर देगें आपकी हर इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

गीदड़ सिंघी वशीकरण उपयोग :

 

इस उपयोग से आप किसी भी इंसान को अपने वश में कर सकते है और उसके बाद उससे अपनी मर्ज़ी से कुछ भी करवा सकते है यह बहुत चमत्कारी उपयोग है जो बहुत जल्द असर करता है ||

 

गीदड़ सिंघी वशीकरण करने का तरीका :

 

(1) गीदड़ सिंघी उस इंसान की फोटो पर रख दें जिसको अपने वश में करना है ||

 

(2) उसके ऊपर थोड़ा सा सिन्दूर डाल दें ||

 

(3) अब एक निम्बू लें और अपने सर के ऊपर से सात बार घुमाएं ||

 

(4) निम्बू को गीदड़ सिंघी के साथ रख दें ||

 

(5) अब नीचे दिए गए मन्त्र को 151 बार जाप करें ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ओम ह्रीं क्लीं अमुकी क्लेदय क्लेदय आकर्षय आकर्षय,
मथ मथ पच पच द्रावय द्रावय मम सन्निधि आनय आनय,
हुं हुं ऐं ऐं श्रीं श्रीं स्वाहा”

 

(6) अब गीदड़ सिंघी के ऊपर से सिन्दूर लेकर अपने माथे पर तिलक करें ||

 

(7) गीदड़ सिंघी को डिब्बी में रख दें और निम्बू को चौराहे में छोड़ आये ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Aghori baba

अघोरी बाबा

 

भारत वर्ष में कई तरह के योगी, संत, साधु और सन्यासी पाए जाते हैं और अघोरी बाबा एक ऐसे सन्यासी होते हैं जो इस संसार की मोह माया को तयाग कर बहुत कठिन तप और साधना करते है || लोग इनके पहरावे को देख कर और इनके साधना करने के तरीको को देख कर यह समझते है की यह बहुत खतरनाक होते है, मगर यह सभ एक भ्रम है ||

 

अघोरी बाबाओं को हम शमशानघाट में तपस्या करते हुए देख सकते है || यह लोग आत्माओं और जिन्नो के दुनिया बहुत अच्छी जानकारी रखते है और भूत प्रेत इनके वश में होते है और इनके पास किसी भी आत्मा को बुलाने की शक्ति होती है || यह अपने शरीर पर भस्म लगा कर रखते हैं || अघोरी बाबा के पास हर समस्या को समाधान करने के लिए अघोरी टोटके और मन्त्र होते है जिनके इस्तेमाल से वो लोगों की परेशानियां दूर करने में मदद करते है ||

 

|| नोट – किसी भी मन्त्र का इस्तेमाल करने से पहले उस मन्त्र और उसकी प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ ले क्योंकि इस मंत्र में गलती की कोई गुंजाइश नहीं है ||

 

अघोरी बाबाओं के 10 सबसे खतरनाक उपाए जो कर देंगे आपकी सभी समस्याओं का समाधान

 

जीवन में धन की कमी दूर करने के लिए

 

अगर आपकी आमदनी कम है और खर्चा ज्यादा है या आप कमाते अच्छा है मगर फिर भी कुछ बचता नहीं है तो अघोरी बाबा का दिया यह उपाए करें और अपने जीवन में धन की कमी को बहुत जल्द पूरा करें ||

 

इस उपाए को करने के लिए जरुरी सामग्री:

 

(1) चन्दन पाउडर ||

 

(2) हल्दी ||

 

(3) एक कलश ||

 

(4) 108 मनको वाली रुद्राक्ष की माला ||

 

(5) एक नारियल ||

 

(6) थोड़े से फूल ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

इस उपाए को करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले चन्दन पाउडर , हल्दी और गंगाजल को मिला लें ||

 

(2) अपने दाएं हाथ की ऊँगली से पान के पत्ते पर स्वस्तिक का चिन्ह बनाएं ||

 

(3) फिर पान के पत्ते के ऊपर पांच लौंग और थोड़े से चावल रख दें ||

 

(4) अब नीचे दिए गए मन्त्र को 86 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ “ॐ गजाननं भूतगणादि सेवितं कपित्थ जम्बूफलसार भक्षितम् ।
उमासुतं शोक विनाशकारणं नमामि विघ्नेश्वर पादपङ्कजम् ॥”

 

(5) फिर पाने के पत्ते में सामग्री को लपेट लें ||

 

(6) और अपने घर के मुख्य द्वार पर बाहर की दोनों तरफ स्वस्तिक का चिन्ह बना दें ||

 

(7) पान में लपेटी सामग्री को किसी नदी या झील में डाल आएं ||

 

इस उपाए को करने के लिए आवश्यक जानकारी :

 

(1) पहले घर के मुख्य द्वार पर स्वस्तिक के चिन्ह बना लें उसके बाद ही पान में लपेटी सामग्री घर से बहार ले जाएं ||

 

(2) इस उपाए को आपने शुक्रवार के दिन करना है ||

 

(3) स्वस्तिक चिन्ह अपने दाएं हाथ की तर्जनी ऊँगली से ही बनाना है ||

 

किसी भी तरह के जादू या ऊपरी कसर को ख़त्म करने का उपाए

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

आपको इस उपाए के लिए चाहिए यह सामग्री :

 

(1) एक निम्बू ||

 

(2) सात हरी मिर्चें ||

 

(3) सिन्दूर ||

 

(4) सफ़ेद मोमबत्ती ||

 

(5) एक माचिस ||

 

(6) काला कपडा ||

 

(7) एक मुठी नमक ||

 

(8) सात सुइयां ||

 

|| जानिए कैसे करते हैं चाय पिला कर वशीकरण जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

इस उपाए को करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले उस इंसान के सामने एक सफ़ेद मोमबत्ती जला दें जिसके ऊपर से जादू या ऊपरी कसर खत्म करनी है ||

 

(2) फिर निम्बू को दो हिस्सों में काट लें ||

 

(3) दोनों हिस्सों के अंदर की तरफ थोड़ा थोड़ा सिन्दूर लगा दें ||

 

(4) फिर निम्बू के दोनों टुकड़ों को जोड़कर उसमे सात सुईयां चुभा दें ||

 

(5) अब निम्बू को काले कपडे के ऊपर रख दें ||

 

(6) निम्बू के साथ सात हरी मिर्चें भी रख दें ||

 

(7) अब अपने दाएं हाथ की मुठी में नमक ले लें ||

 

(8) नीचे दिए गए मन्त्र को 101 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ “शुक्लाम्बरधरं विष्णुं शशिवर्णं चतुर्भुजम् ।
प्रसन्नवदनं ध्यायेत् सर्वविघ्नोपशान्तये ॥”

 

(9) मुठी में लिए नमक को उस इंसान के सर के ऊपर से सात बार घुमाएं जिसके ऊपर से जादू ख़त्म करना है ||

 

(10) अब नमक को नीबू और हरी मिर्चों पर डाल दें ||

 

(11) फिर सारी सामग्री को काले कपडे में लपेट लें ||

 

(12) काले कपडे को शमशानघाट में जाकर छोड़ आएं ||

 

इस उपाए को करने के लिए जरुरी जानकारी :

 

(1) यह उपाए वहां करें जहा वो इंसान सोता है जिसके ऊपर जादू किया हुआ है ||

 

(2) इस उपाए को शनिवार सूर्यास्त के बाद करें ||

 

(3) मन्त्र का उच्चारण सही ढंग से करें ||

 

(4) सामग्री छोड़कर पीछे मुड़कर न देखें ||

 

|| 8 सबसे खतरनाक और अचूक शाबर मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

शादी में आने वाली सभी समस्याओं को दूर करने का उपाए

 

यह उपाए उनके लिए है जिनकी शादी नहीं हो रही या फिर शादी में देर हो रही है इस उपाए को करने से आपकी शादी में आने वाली हर अड़चन दूर हो जाएगी और आपकी शादी बहुत जल्द हो जाएगी ||

 

आपको इस उपाए के लिए चाहिए यह सामग्री :

 

(1) एक भोज पत्र ||

 

(2) सिन्दूर||

 

(3) थोड़ी सी शमशानघाट की राख ||

 

(4) एक अनार के पेड़ की छोटी सी टहनी ||

 

(5) गुलाब जल ||

 

(6) लाल धागा ||

 

(7) एक पात्र ||

 

(8) दो छोटी इलायची ||

 

(8) थोड़ी सी मिश्री ||

 

इस उपाए को करने का तरीका :

 

(1) पात्र में सिन्दूर, शमशानघाट की राख और थोड़ा सा मिलकर स्याही बना लें ||

 

(2) फिर अनार के पेड़ की टहनी को कलम की तरह इस्तेमाल करके भोज पत्र पर नीचे दिया गया मन्त्र लिखें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ “ॐ हुं गं ग्लौं हरिद्रा गणपत्ये वर वरद सर्वजन ह्र्दयं स्तम्भय स्तम्भयं स्वाहा”

 

(3) उसके बाद भोज पत्र के ऊपर दो इलाइची राख दें ||

 

(4) अब इसी मन्त्र को 151 बार जाप करके मिश्री पर फूंक मार ||

 

(5) मिश्री को भोज पत्र के ऊपर रख दें ||

 

(6) सभी चीज़ों को भोजपत्र में लपेट कर लाल धागे सी बांध दें ||

 

(7) फिर उसको चौराहे में जाकर छोड़ आएं ||

 

इस उपाए को करने के लिए जरुरी जानकारी :

 

(1) यह उपाए अपने लगातार तीन बुधवार करना है ||

 

(2) हर बुधवार उपाए करने का समय एक ही रहेगा ||

 

(3) लड़किआं अपने माहवारी के दिनों में इस उपाए को न करें ||

 

(4) उपाए के बारे में किसी को कुछ न बताएं ||

 

|| दुनिआ के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

खोया प्यार वापिस पाने का चमत्कारी उपाए

 

अगर आपका प्रेमी या प्रेमिका आपसे नाराज़ है और आपसे बात नहीं कर रहे या फिर आपके पार्टनर ने आपको छोड़ दिया है और आप उसको वापिस पाना चाहते है तो बाबा जी का यह चमत्कारी उपाए करें और बहुत जल्द अपना खोया हुआ प्यार वापिस पाएं ||

 

आपको इस उपाए के लिए चाहिए यह सामग्री :

 

(1) एक कपडे का पुतला ||

 

(2) एक ताम्बे का सिक्का ||

 

(3) एक मुठी उरद की डाल ||

 

(4) दो पान के पत्ते ||

 

(5) सिन्दूर ||

 

(6) केसर ||

 

(7) पीला कपडा ||

 

इस उपाए को करने का तरीका :

 

(1) अपने दाएं हाथ की ऊँगली के साथ सिन्दूर से एक पान के पत्ते पर अपना नाम लिखे और दुसरे पर अपने पार्टनर का नाम लिखे ||

 

(2) फिर उनको पीले कपडे पर रख दें ||

 

(3) उसके ऊपर पुतला रख दें ||

 

(4) अब उसके ऊपर एक मुठी उरद की दाल डाल दें ||

 

(5) फिर नीचे दिए गए मन्त्र का 171 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ॐ भरा भरा भू भैरव स्वः, ॐ भान भान भान श्रीम कलीम मोहनाया स्वः”

 

(6) उसके बाद ताम्बे के सिक्के को अपने सर के ऊपर से पांच बार घुमाएं ||

 

(7) सिक्के को पुतले के ऊपर रख दें ||

 

(8) सारी सामग्री को पीले कपडे में लपेट लें ||

 

(9) और उसको शमशानघाट में छोड़ आएं ||

 

|| कैसे बने वशीकरण की शक्तियों के बेताज बादशाह और करें मनचाहे इंसान को अपने वश में -जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

इस उपाए से करें अपने ग्रह कलेश को हमेशा के लिए दूर

 

अगर आपके घर में रोज़ परिवार में लड़ाई झगड़ा होता है या फिर आपके घर में कोई न कोई विवाद हमेशा खड़ा रहता है तो इस उपाए को करके लाएं अपने घर में शांति और सुकून ||

 

उपाए :

 

हर शनिवार के दिन पीपल के पेड़ को एक लोटा पानी दें और सूर्यास्त के समय उसके नीचे आटे का दिया जलाएं इसके साथ पक्षियों को बाजरा जरूर डालें | यह बहुत ही शक्तिशाली उपाए है और इसका रिजल्ट भी बहुत जल्द मिलता है ||

 

बिज़नेस में ज्यादा मुनाफा कमाने का उपाए

 

अगर आपका बिज़नेस घाटे में चल रहा है या आप अपना बिज़नेस बढ़ाना चाहते है तो अघोरी बाबा जी का दिया गया यह टोटका जरूर करें और बचे बिज़नेस में पड़ने वाले घाटे से और कमाएं अधिक मुनाफा ||

 

चार काली मिर्च के दाने, दो लौंग और एक चांदी का सिक्का लाल कपडे में बांध लें फिर उसको अपने हाथ में लेकर नीचे दिए गए मन्त्र को 151 बार जाप करें || फिर उसके बाद चार काली मिर्च के दानो को अपने बिज़नेस करने वाली जगह एक एक दाना चारो कोनो में रख दें || दो लौंग और चांदी का सिक्का अपनी तिजोरी में रख लें || यह छोटा सा उपाए करके आप बच सकते है बिज़नेस में होने वाले घाटे से और बन सकते है मालोमाल ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ॐ श्री महालक्ष्म्यै च विद्महे विष्णु पत्नयै च धीमहि तन्नो लक्ष्मी प्रचोदयात ॐ”

 

|| ये मंत्र कर देगा किसी भी स्त्री को आप के साथ काम क्रिया के लिए मजबूर – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

किसी भी लड़की को वश में करने का उपाए

 

अगर आप किसी लड़की से दिल ही दिल में बहुत प्यार करते है मगर आप उसको बताने सी डरते है मगर आपकी यह दिली ख्वाहिश है की उस लड़की का प्यार हासिल करना है तो आप वशीकरण मन्त्र का इस्तेमाल करके उस लड़की के दिल में अपने लिए प्यार जगा सकते है फिर वो लड़की खुद ही अपने प्यार का इजहार कर देगी या आपको उसकी बातों से पता चल जायेगा ||

 

उपाए :

 

थोड़ी सी चीनी लें और नीचे दिए गए मन्त्र का 121 बार जाप करें | उसके बाद चीनी पर फूंक मार दें फिर यही चीनी का इस्तेमाल करके कोई खाने की चीज़ बनाये और उस लड़की को खिला दें जिसको आप बहुत ज्यादा पसंद करते हैं | वो लड़की वो चीज़ खाने के 24 घंटे में आपको प्यार करने लगेगी ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ॐ भगवती भग भाग दायनी देव दन्ती मम वंश्य करु करु स्वाहा ||”

 

नौकरी पाने के लिए उपाए

 

अगर आपकी नौकरी नहीं लग रही है आपने अपनी तरफ से बहुत प्रयास करने के बाद भी सफलता नहीं मिली तो निराश होने की जरुरत नहीं है | आप यह दिए गए उपाए को करके मनचाही नौकरी पा सकते है यह उपाए बहुत ही शक्तिशाली है इसको करके आप निराश नहीं होंगे ||

 

उपाए :

 

रोज़ सुबह स्नान करने के बाद बिना कुछ खाये शिव जी के मंदिर में जाकर ताम्बे के लोटे में जल भरकर शिवलिंग पर चढ़ाएं और साथ में थोड़े से चावल भी चढ़ाएं | यह उपाय आपने रोजाना उस दिन तक करना है जब तक आपकी नौकरी नहीं लग जाती || जल चढ़ाते समय “ॐ नमः शिवाये” का जाप भी करते रहे ||

 

औलाद पाने के लिए उपाए

 

यह उपाए उस दंपत्ति के लिए है जिनके शादी को काफी समय हो गया है फिर भी उनकी गोद सूनी है | अगर आपने काफी प्रयत्न किये और डॉक्टरों के पास भी इलाज करवाया मगर फिर भी आपके घर औलाद नहीं हुई तो आप इस दिए गए उपाए को करें | इस उपाए को करने से आपके घर भी औलाद हो जाएगी ||

 

शास्त्रों में पुत्र प्राप्ति का अचूक और रामबाण उपाय बताया गया है संतान गोपाल मंतर || संतान गोपाल मंत्र के इस्तेमाल से कोई भी पुत्र रतन की प्राप्ति कर सकता है, पर यदि आप अघोरी मंत्र या विद्या का इस्तेमाल करना चाहते  है तो अघोरी विद्या का आसान और असरदार उपाय निचे दिया गया है ||

 

उपाए :

 

अपने घर के मंदिर में लड्डू गोपाल की मूर्ति स्थापित करें और रोज़ उसके सामने पति और पत्नी उसके सामने संतान गोपाल मन्त्र का जाप दस मिनट तक करें और घी का दिया जलाकर माखन और कोई भी सफ़ेद मिठाई का भोग लगाएं | माहवारी के तीसरे दिन से सहवास करना शुरू करे बहुत जल्द आपके बच्चा हो जायेगा ||

 

सभी तरह की परेशानिओ से छुटकारा पाने का उपाए

 

अगर आप हर वक्त किसी न किसी परेशानी में घिरे रहते हैं और एक परेशानी ख़त्म होते ही दूसरी परेशानी आपकी ज़िंदगी में आ जाती है तो आप यह उपाए करके अपनी जिंदगी में आने वाली हर मुश्किल और परेशानी से बच सकते है | इस उपाए को करके आप अपनी ज़िंदगी को खुशिओं से भर सकते है ||
 
वैसे तो गोमती चक्र वैदिक शास्त्रों का एक अचूक उपाय है अपनी जिंदगी से जुड़ी सभी परेशानिओ को जड़ से ख़त्म करने की भी हम यहाँ पर अघोरी  साधु या अघोरी तांत्रिक उपाय की बात करेंगे ||

 

उपाए :

 

हर शुक्रवार के दिन घर में बनने वाली सबसे पहली रोटी लें और उसमें थोड़ा सा गुड़ रख कर गाये को खिलाएं और रोज़ रात के समय ताम्बे के बर्तन में जल भर लें और उसमें थोड़ा सा चन्दन मिला कर अपने सिरहाने के पास रख दें और सुबह होने पर उस जल को तुलसी के पौधे पर चढ़ा दें ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Gomti chakra

Gomti Chakra

क्या होता है गोमती चक्र ??

 

भारत की प्रसिद्ध नदियों में से एक नदी है जिसका नाम है गोमती || यह नदी श्री कृष्ण जी की द्वारिका नगरी में है|| गोमती चक्र जो की सिप्पी के जैसा एक पत्थर होता है वो इसी नदी में पाया जाता है || गोमती चक्र एक तरफ से पत्थर जैसा होता है और एक तरफ से समतल होता है ||

इस समतल के ऊपर एक सांप जैसा आकार बना होता है इसीलिए गोमती चक्र को नाग चक्र भी कहा जाता है || वेदों शास्त्रों में गोमती चक्र के बहुत से उपयोग बताये गए है और इसको कैसे इस्तेमाल करना है उसका विवरण भी वेदो में स्पष्ट बताया गया है ||

 

|| नीचे गोमती चक्र की इस्तेमाल की पूरी विधि दी हुई है कृपा इसे इस्तेमाल करने से पहले ध्यान से पढ़ ले अन्यथा गोमती चक्र से आपको मन मुताबिक़ सफलता नहीं मिलेगी ||

 

गोमती चक्र की महिमा यहाँ से पता चलती है की पुराने समय से ही गोमती चक्र का इस्तेमाल पूजा, साधना, तांत्रिक प्रयोगों और कई तरह के टोटके करने में किया जाता रहा है || गोमती चक्र को सुदर्शन चक्र भी कहा जाता है जो की श्री कृष्ण का एक बहुत शक्तिशाली हथियार है और गोमती चक्र बिलकुल वैसा ही दिखाई देता है ||

गोमती चक्र को इस्तेमाल करने से आप कई तरह की परेशानिओं और कठनाईओं से बच सकते है और इसके इस्तेमाल से आप अपनी कुंडली में बने हुए कई तरह के दोषों से भी छुटकारा पा सकते है || पुराने समय में लोग गोमती शकर को गहनों की तरह भी इस्तेमाल करते थे जिससे एक तो वो नकारात्मक शक्तिओं के प्रभाव से बचे रहते थे और भाग्यशाली बनते थे ||

 

गोमती चक्र इस्तेमाल करने के लिए आवश्यक जानकारी : –

 

अगर आप किसी भी काम के लिए गोमती चक्र इस्तेमाल करना चाहते है तो यह ध्यान रखें की गोमती चक्र जीवित भी होते हैं  और निर्जीव भी मगर आपको सिर्फ और सिर्फ जीवित गोमती चक्र का ही इस्तेमाल करना है ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

कैसे पता लगाएं की गोमती चक्र जीवित है या निर्जीव ??

 

जीवित गोमती चक्र को पहचानने के लिए दो तरीके है पहला ये की जब आप जीवित गोमती चक्र के ऊपर थोड़ा सा सिरका डालेंगे तो उस में से छोटे छोटे बुलबुले पैदा होंगे और दूसरा आप गोमती चक्रो को जोड़ो में रख दें उनको ऐसे रखना है की वो आपस में टच न करें फिर उनके ऊपर थोड़ा थोड़ा सिरका डाल दें और सुबह होने पर जो जीवित गोमती चक्र होंगे वो आपस में जुड़ जायेंगे और जो निर्जीव होंगे वो अकेले रहेंगे ||

 

|| क्या आप पुत्र संतान की प्राप्ति चाहते है तो ये मंतर कर देगा आपकी इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

गोमती चक्र के उपयोग 

 

1. जब भी कोई नयी ईमारत बनाई जाती है चाहे वो रहने के लिए या फिर व्यवसाय के लिए तो ईमारत बनाते समय एक गोमती चक्र को उसकी नींव में दबा दिया जाता है || ऐसा करने से उस ईमारत में रहने वाले सभी लोगों का भाग्य उदय होता है और ईमारत को भी कोई नुकसान नहीं पहुंचता ||

 

2. गोमती चक्र को लाल कपडे में बांधकर चावलों में या गेंहू में रख दिया जाता है ऐसा करने से घर में कभी अनाज की कमी नहीं होती और घर में खुशीआं आती है ||

 

3. दीवाली के दिन माँ लक्ष्मी जी के पूजन के साथ गोमती चक्र रखा जाता है ऐसा करने से हमेशा माँ लक्ष्मी जी की कृपा बानी रहती है और धन प्राप्ति होती है ||

 

|| सबसे खतरनाक 8 शाबर सिद्ध मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी -जानने के लिए क्लिक करे ||

 

4. अगर किसी की कोख बांध दी गयी हो और उसको बच्चा न हो रहा हो या फिर बार बार गर्भ गिर जाता हो तो कपडे में लपेट कर गोमती चक्र उस महिला की कमर पर बांध दें ऐसा करने से बहुत जल्द बच्चा हो जायेगा ||

 

5. अगर किसी इंसान की कुंडली में सर्प दोष बनता है और वो सर्प दोष से मुक्ति प्राप्त करना चाहता है तो वो इंसान गोमती चक्र को अभिमंत्रित करके अपने गले में पहनने से काल सर्प दोष और सर्प दोष से मुक्ति पा सकता है ||

 

6. गोमती चक्र को अपने घर के अंदर दबाने से सभी तरह के वास्तु दोष दूर होते हैं ||

 

7. अपने शत्रु से पीछा छुड़वाने के लिए एक गोमती चक्र पर उसका नाम लिखकर गोमती चक्र को जमीं में गाड़ दें ऐसा करने से आपका शत्रु परास्त हो जायेगा ||

 

8. घर में अगर लड़ाई झगड़ा रहता है तो गोमती चक्र को एक सिन्दूर की डब्बी में रखकर डब्बी को घर के अंदर रख लें ऐसा करने से घर में शांति और खुशीआं बरक़रार रहती हैं ||

 

|| अगर आपका गोमती चक्र से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप निचे दिए हुए कमेंट बॉक्स में अपना सवाल पूछ सकते है ||

 

9. जिस इंसान की शादी में बाधा आ रही है या फिर शादी नहीं हो रही वो गोमती चक्र को श्री कृष्ण जी की मूर्ति के साथ रखकर सात दिन लगातार पूजा करे तो बहुत जल्दी शादी हो जाएगी ||

 

10. अगर आपकी नौकरी नहीं लग रही या फिर उन्नति नहीं हो रही तो दो गोमती चक्र अपनी जेब में रखकर इंटरव्यू दें तो आपकी नौकरी लग जाएगी या फिर अपनी जेब में रखकर कार्यस्थल जाएं तो बहुत जल्दी उन्नति हो जाएगी ||

 

कैसे गोमती चक्र को अभिमंत्रित करते हैं ??

 

अभिमंत्रित गोमती चक्र को घर में रखने से है में बरकत रहती है और घर में खुशीआं आती है || घर में गोमती चक्र रखने से घर में परिवार के लोगों में प्यार बढ़ता और कभी लड़ाई झगड़ा नहीं होता || अपने कार्यस्थल पर अभिमंत्रित गोमती चक्र रखने से व्यपार में कभी घाटा नहीं होता और अधिक मुनाफा होता है ||

 

गोमती चक्र को अभिमंत्रित करने का तरीका : –

 

1. सबसे पहले जीवित गोमती चक्र को गाये के कच्चे दूध से स्नान करवाएं ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

2. फिर उसको एक थाली में रख दे ||

 

3. थाली में थोड़े से चावल डाल दें ||

 

4. फिर गोमती चक्र पर फूल चढ़ाएं ||

 

5. उसके साथ एक आटे का दिया जलाएं ||

 

6. अब नीचे दिए गए मन्त्र को 108 जाप करें ||

 

|| मंत्र ||

 

” क्लीं क्रीं हुं क्रों स्फ्रों कामकलाकाली स्फ्रों क्रों क्लीं स्वाहा “

 

7. फिर गोमती चक्र पर चन्दन से अभिषेक करें ||

 

8. यह किर्या लगातार सात दिन तक करें ||

 

9. सातवें दिन गोमती चक्र को लाल कपडे में लपेट लें ||

 

10. अब इसे आप चाहे घर के पूजा स्थल में रखें और चाहे अपने कार्यस्थल पर रखें ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Santaan Gopal Mantra

Santaan Gopal Mantra

 

Children are the best gift a person receives from the God because children fill the life of the person with happiness cans charms. Home is complete only with the children but there are some couples who remain deprived of the loveliest gift of the God. It is seen that even after several years of marriage, couples are unable to conceive a child. They consult various doctors to get their problem solved but a couple is declared medically fit to conceive a baby even then they are unable to have a child. Sometimes there is no Yog of a child in the horoscope of the person and sometimes negative impacts of some planetary positions are creating hurdles and people think that they are not having a child just because of some physical lacking. They keep on spending huge money in big hospitals and remain childless.
 
In the Ancient holy Vedas, there are very useful methods are available by which conceiving a child can be possible. If we notice one thing that a person only leave his child to run his clan and son is essential for this purpose. To create Yog for child and son in the horoscope the most powerful mantra is Santaan Gopal mantra. The people who don’t have any child they can have a child by using this mantra and the couple who will enchant this mantra according to the method given here will have a son. To use Santaan Gopal mantra you will need to Sidh this mantra first but instead this you can use Santaan Gopal Yantra.

 

What are the uses of Santaan Gopal mantra??

 

(1) To have a baby.

 

If the couple is not having child even after many years of marriage because of some physical lacking or because of some planetary positions than Santaan Gopal mantra can be used to have a child.

 

(2) To have a baby boy.

 

Son takes forward the Clan and a person’s soul rests in the peace after death only if his son will give fire to the body of the person. By using Santaan Gopal mantra couple can get a baby boy very soon.

 

If someone is not getting pregnant because she or he has become the target of some evil kind of thing then you can use Santaan Gopal mantra to remove that evil thing.

 

Some cunning and clever people use the black magic method on others by which the target person will not have a child forever. But Santaan Gopal mantra has all the powers to remove all such types of evil things.

 

(3) For painless and problem free delivery of a baby.

 

If you are pregnant and near the delivery days and you wish to have painless and problems free delivery then also you can practice this mantra.

 

(4) For a healthy baby.

 

Everybody wishes to have a healthy child so by using santaan goal mantra you can have a healthy child.

 

(5) If the couple is not having a child because of Planetary positions in the horoscope.

 

Santaan gopal mantra can remove all types of Doshas that are creating obstacles in having a child. Sometimes couple thinks that they are not having a child because of some medical complication but the problem is due to the planets present in the Horoscope. You can also use this mantra to remove any kind of problem due to the planetary positions.

 

Material required for practicing Santaan Gopal mantra:

 

(1) Idol or photo of Shri Krishan in child form.

 

(2) Some fruits and flowers.

 

(3) White butter.

 

(4) Chandan powder.

 

(5) Rosary of Tulsi 108 beads.

 

(6) One flute.

 

(7) Earthen lamp with pure ghee.

 

(8) Incense sticks.

 

Method of Santaan Gopal mantra:

 

(1) First of all, couple wear white clothes after taking bath.

 

(2) Now place the idol of Lord Krishna in the Temple in your home.

 

(3) hen place Santaan Gopal Yantra with the Idol of Krishna.

 

(4) Now put some Chandan on the forehead of the Idol.

 

(5) Then place some fruits and flowers as offerings in front of the idol.

 

(6) Now offer some white butter to Lord Krishna.

 

(7) Light some incense sticks and place them near the idol.

 

(8) Then chant the mantra for 108 times with the help of Rosary of Tulsi beads.

 

|| Mantra:
||

 

“Om shreem kalim gloum Deviki sutt Govind Vasudev Jagatpate Dehi mein Tannaye Krishan Tvamanh Sharanam Gatt”

 

(9) Now offer Flute to Lord Krishna so place it in front of the idol of Krishna.

 

(10) Couple must eat white butter with dinner as Prasad.

 

Important information for practicing Santaan Gopal mantra:

 

(1) Couple must wear only white clothes while practicing this mantra.

 

(2) Every day you have to offer new flute and after that give them all in the temple.

 

(3) When you give flutes in the temple then also make offerings of Jaggery and White mustard seeds.

 

(4) White butter must be used homemade.

 

(5) Time of practicing the method should be same every Thursday.

 

Tantrik Vidya

तांत्रिक विद्या

 

तंत्र एक विज्ञानं है जिसके माध्यम से प्राकृतिक ऊर्जाओं और अलौकिक शक्तिओं को अपने वश में करके उनसे विभिन्न प्रकार के कार्य पूर्ण करवाए जाते हैं | तंत्र के प्रयोगों में मंत्रो का बहुत महत्व है यह मन्त्र वेदों में से लिए गए हैं और जब यह मंत्रो का उच्चारण होता है तो उनसे जो ध्वनि उत्पन होती है उनकी तरंगो से प्राकृतिक ऊर्जाओं और अलौकिक शक्तिओं को जागृत किया जाता है और अनेक तरह के प्रयोग करके उन शक्तिओं और ऊर्जाओं को अपने किसी भी काम करवाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है| तंत्र विद्या का मतलब है जब एक तांत्रिक मंत्रो का जाप करके उन मंत्रो पर सिद्धी प्राप्त कर लेता है और अपने तांत्रिक विद्या का दूसरों की समस्याएं सुलझाने में करता है ||

 

तांत्रिक विद्या पाने का पूरा तरीका

 

तांत्रिक विद्या प्राप्त करने क लिए सबसे पहले आपको मन्त्र को सिद्ध करना होता है और उसके लिए आपको मन्त्र को 21 दिनों तक एक ही समय, एक ही जगह पर बैठ कर मन्त्र जाप करना होता है और उसके साथ कुछ तांत्रिक प्रयोग करने होते है | जब आपका मन्त्र सिद्ध हो जाता है तब आप उस मन्त्र को विभिन्न समस्याएं सुलझाने के लिए कर सकते हैं | जब आप समस्या सुलजाहते हैं तो मन्त्र वही रहता है मगर उसको इस्तेमाल करने के प्रयोग अलग अलग होते है | हम आपको यहाँ बताएँगे की कैसे तांत्रिक विद्या पाए जाती है और कैसे तांत्रिक विद्या से अलग अलग समस्याएं सुलझायी जाती है ||

 

|| नोट – किसी भी मन्त्र का इस्तेमाल करने से पहले उस मन्त्र और उसकी प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ ले क्योंकि इस मंत्र में गलती की कोई गुंजाइश नहीं है ||

 

तांत्रिक विद्या पाने के प्रयोग के लिए आवश्यक सामग्री :

 

(1) एक हवन कुंड ||

 

(2) थोड़ी सी जलाने के लिए आम के पेड़ की लकड़ीआं ||

 

(3) एक कलश ||

 

(4) 108 मनको वाली रुद्राक्ष की माला ||

 

(5) एक नारियल ||

 

(6) थोड़े से फूल ||

 

(7) लाल धागा ||

 

(8) चावल ||

 

(9) हल्दी ||

 

(10) केसर ||

 

(11) थोड़ी सी चन्दन की लकड़ी ||

 

(12) गंगा जल ||

 

|| जानिए कैसे करते हैं चाय पिला कर वशीकरण जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

इस समान को कैसे इस्तेमाल करना है ||

 

(1) सबसे पहले जहाँ अपने यह विधि करनी है उस जगह को थोड़ा गंगाजल छिड़क कर पवित्र कर लें ||

 

(2) उसके बाद थोड़ा सा गंगा जल कलश में डाल दें ||

 

(3) अब नारियल पर लाल धागा बांध दें ||

 

(4) उसके बाद नारियल को कलश के ऊपर रख दें ||

 

(5) अब हल्दी और केसर से कलश का अभिषेक करें ||

 

(6) अब कलश के सामने हवन कुंड में थोड़ी से आग जला लें ||

 

(7) फिर अपने दाएं हाथ में रुद्राक्ष की माला पकड़ लें ||

 

(8) माला की सहायता से नीचे दिए गए मन्त्र का 108 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ किन कालीका षोडस वर्सिय जवान।
हाथ में खडग खप्पड़ तीर कमान।
गले नर मुंड माला रहे शमशान।
आओ आओ माँ कालिके मेरा कहां मान।
नहीं आये कलिका तो काल भैरव कि दुहाई।
शब्द साँचा।
पिंड कांचा।
फुरो मन्त्र खुदाई।”

 

|| कैसे करे किसी भी स्त्री को आप के साथ काम क्रिया के लिए मजबूर – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

(9) मन्त्र जाप ख़तम करने के बाद माला को अपने गले में पहन लें ||

 

(10) जब तक आप तांत्रिक विद्या प्राप्त करने की विधि कर रहे हैं तब तक अपने माला को गले से नहीं उतारना है ||

 

(11) माला गले में डालने के बाद चन्दन की लकड़ी और एक मुठी चावल अग्नि को समर्पित करें ||

 

(12) यह विधि आपने लगातार 21 दिनों तक करनी है ||

 

(13) आपको विधि करने के थोड़े से ही दिनों में पता चल जायेगा की आपके अंदर दिव्या शक्ति की उत्पत्ति हो रही है ||

 

(14) 21 वे दिन आप इस मन्त्र को किसी भी समस्या को सुलझाने के लिए कर सकते हैं ||

 

सावधानियां

 

(1) एक बार तांत्रिक शक्ति हासिल करने के बाद इन शक्तियों का गलात इस्तेमाल न करे ||

 

|| दुनिया के 8 सबसे खतरनाक और असरदार शाबर मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा पूरी जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

(2) अगर आप अपने अंदर शक्ति को महसूस नहीं कर रहे है तो आप से कोई गलती जरूर हुई है.इसके लिए आप इस विधि को दुबारा करे ||

 

कैसे करें सिद्ध किये गए मन्त्र का इस्तेमाल खोया प्यार वापिस पाने के लिए

 

इस विधि को करने के लिए आवश्यक सामग्री :

 

(1) आपसे रूठे हुए आपके साथी के फोटो ||

 

(2) एक सफ़ेद मोमबत्ती ||

 

(3) लाल कपडा ||

 

(4) एक निम्बू ||

 

(5) थोड़ी से शमशानघाट की राख ||

 

(6) पांच कीलें ||

 

(7) दो पान के पत्ते ||

 

(8) दो लौंग ||

 

इस विधि को करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले निम्बू को दो भागों में काट लें ||

 

(2) उन दोनों भागों के अंदर की तरफ थोड़ी थोड़ी शमशानघाट की राख लगा दें ||

 

(3) फिर दोनों भागो के बीच में अपने साथी की फोटो राख दें ||

 

(4) अब निम्बू में अलग अलग जगह पर पांच कीलें चुभा दें ||

 

(5) निम्बू को लाल कपडे पर रख दें ||

 

(6) उसके सामने सफ़ेद मोमबत्ती जला लें ||

 

(7) निम्बू के दोनों तरफ एक एक पान का पत्ता राख दें ||

 

(8) फिर दो लौंग अपने दाएं हाथ में रखकर अपने सर के ऊपर से 7 बार घुमाएं ||

 

(9) उसके बाद एक एक लौंग दोनों पान के पत्तो पर रख दें ||

 

(10) अब ऊपर दिए हुए मन्त्र कर 121 बार जाप करें ||

 

(11) जाप करने के बाद निम्बू पर फूंक मार दें ||

 

(12) अब सारी सामग्री को काले कपडे में लपेट लें ||

 

(13) अब उसको शमशानघाट में जाकर छोड़ आएं ||

 

|| अगर आप तंत्र विद्या से जुड़ी और भी बहुत सारी रोचक जानकारी चाहते हो आज ही हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे – क्लिक करे यहाँ ||

 

सावधानियां

 

(1) ये विधि अमावस्या के दिन या रात को ही करे ||

 

(2) आप इस विधि से सिर्फ अपना प्यार वापिस पा सकते है न की उसे किसी और के पास जाने के लिए मजबूर कर सकते है ||

 

(3) ये विधि कोशिस करे की हफ्ते तक लगातार करने की क्योंकि 1 हफ्ते बाद वो इंसान पूर्णता आपके वश में हो जायेगा और आप जैसे कहेंगे वैसे आपकी बात मानेगा ||

 

(4) कृपा इसे किसी गलत तरीके के वशीकरण के लिए इस्तेमाल न करे ||

 

बिज़नेस में अच्छा मुनाफा कमाने के लिए कैसे करें इस मन्त्र का इस्तेमाल :

 

(1) कई बार आपको लगता है की आप बहुत मेहनत कर रहे है और बहुत कोशिश कर रहे है पर आपको कामयाबी नहीं मिल रही है ||

 

(2) या पैसा आपके हाथ में नहीं रुक रहा है ||

 

(3) या आपके बनते हुए काम रुक जा रहे है ||

 

(4) या आपको लगता है आपके ऊपर किसी ने कुछ किआ हुआ है तो आप इस विधि का इस्तेमाल कर सकते है ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

इस विधि को करने के लिए जरुरी सामान :

 

(1) एक मिट्टी का छोटा मटका ||

 

(2) एक मुठी सफ़ेद तिल ||

 

(3) एक ताम्बे सा सिक्का ||

 

(4) पांच हरी मिर्चें ||

 

(5) एक मुठी मूंग की दाल ||

 

(6) दो पीपल के पत्ते ||

 

(7) दो छोटी इलाइची ||

 

(8) धूप||

 

|| दुनिआ के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

इस विधि को करने का पूरा तरीका :

 

(1) सबसे पहले नहाकर आप कोई ऐसे शांत जगह चुने जहा आपको कोई विधि के बीच में न बुलाये ||

 

(2) उफिर अपने सामने मिट्टी का घड़ा रख लें ||

 

(3) उसके अंदर एक मुठी तिल दाल दें ||

 

(4) अब उसके अंदर ताम्बे का सिक्का दाल दें ||

 

(5) फिर उसमें एक मुठी मूंग की दाल दाल दें ||

 

(6) अब घड़े के दोनों तरफ एक एक पीपल का पत्ता रख दें ||

 

(7) फिर उनके ऊपर एक एक इलाइची रख दें ||

 

(8) अब घड़े के मुंह पर हाथ रख कर सिद्ध मन्त्र को 121 बार जाप करें ||

 

(9)उसके बाद दोनों पीपल के पत्ते और ेलाइचिओ को घड़े में डाल दें ||

 

(10) घड़े में से ताम्बे का सिक्का निकालकर अपने पास रख लें ||

 

(11) घड़े को किसी चौराहे में जाकर छोड़ आएं ||

 

(12) ताम्बे के सिक्के को आपने अपने बिज़नेस करने वाली जगह पर संभलकर रखे जहाँ आप रोज़ उसको देख सकें ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

(13) फिर देखिये इस विधि का कमाल ||

 

सावधानियां

 

(1) इस से सिर्फ आप अपना बिगड़ा हुआ काम कारोबार चला सकते है न की किसी का काम बिगड़ सकते है ||

 

(2) इसे सिर्फ तभी इस्तेमाल करे जब आपका काम आपको फायदा नहीं दे रहा हो ||

 

(3) इस विधि को कोशिश करें रात में करने अपने काम की जगह या घर पर जहा आपको कोई देखे ना और रोके-टोके ना ||

 

करें इस सिद्ध मन्त्र का इस्तेमाल अपने शत्रु से छुटकारा पाने के लिए :

 

(1) अगर आपका दुश्मन आपको बार बार तंग करता है ||

 

(2) या बार बार आपको परेशान करता है ||

 

(3) या आपके कामो में अर्चन पैदा करता है ||

 

(4) या किसी और तरीके से आपको परेशान करता है तो आप ये विधि जरूर इस्तेमाल कर सकते है ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

इस विधि को करने के लिए जरुरी सामान :

 

(1) एक निम्बू ||

 

(2) काला कपडा ||

 

(3) एदो कीलें ||

 

(4) सात काली मिर्च ||

 

(5) एक शराब की बोतल ||

 

(6) थोड़ी सी शमशानघाट की राख ||

 

(7) एक मुठी नमक ||

 

(8) एक कागज़ ||

 

(9) एक काली स्याही वाला पेन ||

 

|| अगर आप तंत्र विद्या से जुड़ी और भी बहुत सारी रोचक जानकारी चाहते हो आज ही हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे – क्लिक करे यहाँ ||

 

इस विधि को करने का पूरा तरीका :

 

(1) इस विधि को अपने किसी नदी या झील के किनारे पर करना है ||

 

(2) किनारे पर जाकर सबसे पहले आप एक खड्डा खोद लें ||

 

(3) फिर उसमे एक मुठी नमक डाल दें ||

 

(4) फिर कागज़ पर अपने शत्रु का नाम लिखें ||

 

(5) कागज़ को तीन बार फोल्ड करके खड्डे में डाल दें ||

 

(6) अब उसके अंदर दो कीलें डाल दें ||

 

(7) फिर खड्डे में थोड़ी सी शमशानघाट की राख डाल दें ||

 

(8) अब सिद्ध किए गए मन्त्र को 131 बार जाप करें ||

 

(9)अब खड्डे को मिट्टी से बंद कर दें ||

 

(10) उसके ऊपर पहले शराब उड़ेल दें ||

 

(11) फिर निम्बू काटकर खड्डे के ऊपर निचोड़ दें ||

 

(12) अब सात मिर्चो को खड़े के ऊपर से सात बार घुमाएं ||

 

(13) और उनको पानी में फेंक दें ||

 

(14) इस विधि को करते ही आपका शत्रु कभी आपके रस्ते में नहीं आएगा ||

 

|| करें अपने पति को अपने वश में सिर्फ 1 छोटे से आसान वशीकरण मंत्र से – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ||

 

सावधानियां

 

(1) इसे कभी अमावस्या की रात को इस्तेमाल ना करे नहीं तो आपके शत्रु की मौत भी हो सकती है ||

 

(2) आप इसे ठीक वक़्त पर सिर्फ एक शत्रु के ही लिए इस्तेमाल कर सकते है ||

 

नोट – शत्रु आपका कोई खून का रिस्तेदार नहीं होना चाहिए ||

 

कैसे करें इस मन्त्र से अपने माँ बाप को राज़ी अपनी लव मैरिज के लिए :

 

दोस्तों आज कल हर कोई अपनी मर्जी से शादी करना चाहता है कई किस्मत वाले होते है की उनके घरवाले मान जाते है और कई के माता पिता समाज , जाट -पात -बिरादरी के नाम लेकर आपकी लव मैरिज के लिए नहीं मानते है , अगर आप भी ऐसी किसी परेशानी से झूझ रहे है तो तंत्र मंत्र की मदद से आप भी अपने माता पिता को अपनी शादी के लिए मनवा सकते है ||

 

इस विधि के लिए जरुरत का सामान:

 

(1) सूखे हुए पांच तुलसी के पत्ते ||

 

(2) आटे से बना दीपक ||

 

(3) थोड़ा सा सरसों का तेल ||

 

(4) एक मुठी नमक ||

 

(5) रुई से बानी बत्ती ||

 

(6) एक शहद की बोतल ||

 

(7) दो छुहारे ||

 

इस विधि को करने का पूरा तरीका :

 

(1) सबसे पहले एक मुठी नमक से जमीन पर गोलधारा बनाएं ||

 

(2) फिर उसके अंदर शहद की बोत्तल और दो छुहारे रख दें ||

 

(3) फिर आटे से बने दीपक में थोड़ा सा सरसों का तेल डाल लें ||

 

(4) उसमें रुई की बत्ती डालकर जला लें ||

 

(5) सुखी हुई तुलसी की पत्तिओं को मसल कर तेल में डाल दें ||

 

(6) अब सिद्ध किये हुए मन्त्र का 111 बार जाप करें ||

 

(7) फिर शहद की बोतल और छुहारो पर फूंक मार दें ||

 

(8) शहद की बोतल अपने पास रख लें और दोनों छुहारे अपने आँगन में दबा दें ||

 

(9) आटे के दिए को नदी या झील में डाल दें ||

 

(10) अब किसी भी मीठी चीज़ में थोड़ा सा शहद मिलाकर अपने माँ बाप को खिला दें ||

 

(11) इस विधि के असर से बहुत जल्द आपके माता पिता आपकी लव मैरिज के लिए राज़ी हो जायेंगे ||

 

सावधानियां

 

(1) अगर आपके माता पिता सौतले है तो उन पर ये विधि काम नहीं करेगी ||

 

(2) न ही किसी और रिस्तेदार पर सिर्फ आपके खुद के माता पिता पर यानि की आप अपनी GF या BF के माता पिता को नहीं मना सकते हो इस विधि से ||

 

|| कैसे बने वशीकरण की शक्तियों के बेताज बादशाह – सावधान इन शक्तियों से आप किसी को भी चुटकियों में वश में कर सकते है -जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

यह मन्त्र उतार सकता है हर तरह की ऊपरी कसर, नज़र और काला जादू

 

अगर आपके घर में किसी ने कुछ किआ हुआ है या आपके घर में शांति नहीं रहती है या सकुन नहीं रहता है या घर में लड़ाई झगड़ा रहता है या आपको लगता है किसी की कोई नजर लगी हुई है तो आप इस विधि को तरय कर सकते है और पा सकते है अपने घर की सभी परेशानियों से छुटकारा तुरंत ||

 

इस विधि को करने के लिए आवश्यक सामग्री :

 

(1) एक हवन कुंड ||

 

(2) जलाने के लिए नीम की लकड़िआं ||

 

(3) थोड़े से चावल ||

 

(4) एक हल्दी की गांठ ||

 

(5) कपूर ||

 

(6) देसी घी ||

 

(7) एक काला धागा ||

 

(8) हवन सामग्री ||

 

|| कैसे करे हर किसी को अपनी तरफ आकर्षित सिर्फ एक मंत्र से – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

इस विधि को करने का पूरा तरीका :

 

(1) सबसे पहले हवन कुंड में आग जला लें ||

 

(2) फिर एक बार सिद्ध किया गया मन्त्र बोलें ||

 

(3) फिर अग्नि में थोड़ी सी हवन सामग्री और घी की आहुति दें ||

 

(4) उसके बाद काले धागे में एक गांठ लगा दें ||

 

(5) दोबारा फिर एक बार मन्त्र बोलें ||

 

(6) अब अग्नि में थोड़े से चावलों की आहुति दें ||

 

(7) अब काले धागे में पहली गांठ से थोड़ी दूरी पर दूसरी गांठ लगा दें ||

 

(8) फिर एक बार मन्त्र जाप करें और अग्नि में एक हल्दी की गांठ डाल दें ||

 

(9) अब काले धागे पर तीसरी गांठ लगा दें ||

 

(10) फिर एक बार मन्त्र पढ़े और अग्नि में कपूर डाल दें ||

 

(11) काले धागे पर एक और गांठ लगा दें ||

 

(12) अब एक एक बार मन्त्र पढ़कर हवन सामग्री और घी की आहुति देते हुए काले धागे पर कुल सात गांठ लगा लें ||

 

(13) उसके बाद यह काला धागा उस इंसान की दायीं भुजा पर बांध दे जिसके ऊपर से ऊपरी कसर हटानी है ||

 

(14) इस धागे को 21 दिनों तक बांधकर ही रखना है ||

 

(14) ऐसा करने से हर प्रकार का जादू टोना आप उतर सकते हैं |||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Page 1 of 1512345...10...Last »
error: Content is protected !!
Subscribe To Our Newsletter
Subscribe To Our NewsletterJoin our mailing list to receive the latest news and updates from our team.

You have Successfully Subscribed!

Pin It on Pinterest