केमद्रुम योग ( Kemdrum Yoga)

 

केमद्रुम योग (Kemdrum Yoga)

 

जब किसी जातक की कुंडली में चंद्र ग्रह के अगले घर और पिछले घर में कोई ग्रह नहीं हो तो केमद्रुम योग बनता है || जैसे चन्द्रमा बाहरवें घर में हो तो उस घर में सूर्य नहीं आना चाहिए यदि वाहरवें घर में सूर्य आ जाये तो चन्द्रमा का बल कमजोर हो जाता है  और फिर चन्द्रमा लाभ नहीं दे पाता है न ही शुभता का लाभ होता है और न ही अशुभता से हानि होती है || सूर्य के बिना और कोई भी ग्रह आ जाये तो उसे अनफा योग कहते है || और अगर दोनों ओर ग्रह हों तो उसे दुरुधरा योग कहते है || और अगर चंद्र ग्रह के अगले घर और पिछले घर में कोई ग्रह नहीं हो तो केमद्रुम योग बनता है ||

 

 

उपाय

 

|| मांगलिक ( कुजा )दोष से बचने के सबसे आसान और चमकारी उपाय – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

1. जिस व्यक्ति की कुंडली में केमद्रुम योग है तो उसे अकेले नहीं रहना चाहिए जब इस ग्रह का व्यक्ति अकेला रहता है तो उसके मन और मस्तिष्क में बुरे विचार आने लगते हैं क्योकि चन्द्रमा मन का स्वामी है और व्यक्ति मानसिक रूप से पीड़ित भी हो सकता है और योग की प्रबलता के अनुसार मानसिक संतुलन बिगड़ भी सकता है क्योकि कुंडली के घर में जब चन्द्रमा अकेला होता है तो ये योग बनता है ||

 

2. केमद्रुम योग के जातको को पूर्णिमा के उपवास करने चाहिए जब सोमबार के दिन पूर्णिमा आये तब उस दिन से पूर्णिमा के उपवास प्रारम्भ करने चाहिए जातक को उपवास लगातार 4  वर्ष तक करने चाहिए ||

 

3. सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए और गाये का कच्चा दूध शिवलिंग पर “ॐ नमः शिवाये” का जाप करते हुए चढ़ाना चाहिए ||

 

4. बहते हुए पानी में जौं प्रवाह करे इस से आपको बहुत लाभ होगा ||

 

5. केमद्रुम योग वाले व्यक्तियों को वर्ष में एक बार दशांश हवन करना चाहिए ||

 

6. घर में दक्षिणाव्रती शंख स्थापित करना चाहिए तथा इसकी पूजा करनी चाहिए ||

 

|| ये मंत्र कर देगा आपकी पुत्र संतान की इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

7. अपने जन्म दिवस पर महामृत्युंजय मंत्र का 108  बार जप करना चाहिए ||

 

8. दो मुखी, चार मुखी और पांच मुखी का कोई भी एक रुद्राक्ष लेकर, रुद्राक्ष मंतर से अभिमंत्रित कर के उसका लॉकेट बना कर सोमबार के दिन धारण इस से भी आपको बहुत लाभ होगा ||

 

9. बीसा यंत्र को अभिमंत्रित कर के अपने घर में रखें या मूंगा नग चाँदी की अंगूंठी बना कर अनामिका ऊँगली में धारण करें ||

 

लक्षण

 

1. केमद्रुम योग वाले व्यक्ति हमेशा अकेला रहता है और इनका मानसिक संतुलन भी ठीक नहीं रहता है ।।

 

सकारात्मक

 

1. केमद्रुम योग वाले लोगों का जीवन संघर्ष और अभाव ग्रस्त जीवन होता है ।।

 

2. हमारे देश की प्रथम महिला आईपी. एस किरण बेदी योग भी केमद्रुम योगों के कारण राजयोग में परिवर्तन हुआ है ।।

 

|| केमद्रुम योग से जुड़ी नयी नयी जानकारी के लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

नकारात्मक

 

1. केमद्रुम योग वाले लोगों का जीवन संघर्ष और अभाव ग्रस्त जीवन होता है ||

 

2. केमद्रुम योग वाले व्यक्ति का जीवन बहुत दुःखमय का और आर्थिक स्थिति से बहुत गरीब होता है ।।

 

3. इस योग वाले व्यक्ति को आजीविका संबधी कार्यो में परेशानियों का सामना करना पड़ता है ।।

 

4. इस योग वाले व्यक्तियों का मन भटका हुआ तथा असंतुष्ट स्थिति  बनाये रखता है ।।

 

5. इस योग वाला व्यक्ति हमेशा दूसरों पर निर्भर रहता है ।।

 

6. केंद्रुम योग में जातक अपने घर परिवार से दूर रहता है ।।

 

|| कैसे करें अपनी सभी इछाये पूरी सिर्फ एक चक्र से – जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

केमद्रुम योग कैसे खत्म होता है ??

 

1. केमद्रुम योग में जातक की कुंडली में चन्द्रमा के दूसरे घर और चौथे घर में कोई भी ग्रह न हो तो तब भी ये योग भंग हो जाता है ।।

 

2. यदि चन्द्रमा के साथ बुध ग्रह, गुरु ग्रह या शुक्र ग्रह साथ बैठते है तो भी ये योग भांग हो जाता है ।।

 

3. अगर चन्द्रमा से अलावा केंद्र में  कोई भी ग्रह हो तो ये योग भंग हो जाता है ।।

 

4. चन्द्रमा पर अगर गुरु की दृष्टि हो तो भी यह योग भंग हो जाता है ।।

 

5. बीसा यंत्र को अभिमंत्रित कर के अपने घर में रखें या मूंगा नग चाँदी की अंगूंठी बना कर अनामिका ऊँगली में धारण करें ।।

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

मांगलिक ( कुजा ) दोष

 

क्या मांगलिक ( कुजा ) दोष ??

 

मंगलीक दोष को कुजा दोष भी कहा जाता है और यह दोष मंगल की बजह  से कुंडली में बनता है  यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में  मंगल पहले, दूसरे, चौथे, सातवें, आठवें या बाहरवें घर में हो वह व्यक्ति मंगलीक होता है ।।

 
manglik ( kuja ) dosh
 

लक्षण

 

1. मांगलिक को उग्रता हुआ ग्रह माना गया है इस ग्रह के लोगो का स्वभाब उग्र होता है।।

 

2. मांगलिक दोष होने के कारण विवाह में परेशानियाँ आती है लम्बे समय तक विवाह नहीं होता है अगर हो जाये तो शादी शुद्धा जीवन में परेशानियाँ आती है ।।

 

3. ऐसा माना जाता है जिन लोगों ने अपने पिछले जन्म में अपने वर या बधु के साथ गलत किया हो तो यह दोष लगता है ।।

 

4. रक्त रोग जैसी समस्याएँ आती है ।।

 

5. इससे मानसिक रूप से कष्ट होता है ।।

 

6. इस ग्रह से आत्म विश्वास और साहस में कमी आती है ।।

 

उपाय:

 

1. गुण मिलाये बिना विवाह नहीं करना चाहिए उचित गुण  मिलने पर ही विवाह करे इस से मंगलीक दोष काटता है ।।

 

2. हर मंगल बार को 21 बार मंगल का जाप करे ॐ अं अंगारकाय नमः ।।

 

3. लाल मिर्च सेवन करना छोड़ दे क्योकि लाल रंग मंगलीक को उत्तेजित करता है ।।

 

4. अगर लड़के लड़की दोनों की कुंडली में  मंगलीक दोष हो तो यह ग्रह दूर  हो जाता है  ।।

 

5. शादी करने से पहले लड़के लड़की का कुज्ज विवाह करवाना चाहिए, यह विवाह पीपल के पेड़ से होता है इससे मंगलीक ग्रह दूर होता है ।।

 

6. मंगल बार के दिन उपवास रखना चाहिए इस से भी यह ग्रह दूर होता है और साथ में हनुमान चालीसा का जाप करे ।।

 

7. स्त्रियों को  पार्वती मंगला का पथ करना चाहिए इस से मंगल दोष दूर होता है ।।

 

8. इस ग्रह वाले लोगों का विवाह 28  साल बाद करवाना चाहिए 28  साल के बाद यह ग्रह का दोष कम हो जाता है ।।

 

9. अपने घर  के मंदिर में मंगलीक यंत्र की स्थापना करे और हर रोज इसकी पूजा करे इस से मंगलीक दोष दूर होता है ।।

 

10. बंदरों और कुत्तों को गुड़ और आटे से मीठी रोटी बना कर खिलाएं ।।

 

11. अगर आपके बच्चों को कोई परेशानी आ रही हो तो नीम के पेड़ लगवाएं ।।

 

12. पितरों की पूजा करे और उनका आशीर्वाद लें ।।

 

13. भगवान् शिव की पूजा करें ।।

 

क्या मांगलिक दोष से जीवन खत्म हो जाता है ??

 

इस दोष के प्रति लोगों में विभिन्न प्रकार की भ्रांतियां है इस ग्रह वाले लोगों के जीवन में परेशानियाँ तो आती है परन्तु उन परेशानियों को दूर करने के कुछ उपाए भी है जिस से ये दोष कम हो सकता है परन्तु हट नहीं सकता ।।

 

क्या मांगलिक दोष वाले व्यक्ति को मांगलिक दोष वाले व्यक्ति से ही शादी करनी चाहिए ??

 

नहीं ऐसा कुछ नहीं है एक मंगलीक ग्रह वाला व्यक्ति किसी अन्य ग्रह वाले व्यक्ति से शादी कर सकता है परन्तु इसके लिए कुछ उपाए है जो करने पड़ते है जिस से मंगलीक ग्रह दूर हो जाता है और अगर किसी लड़के की कुंडली में मंगल पहले, दूसरे, चौथे, सातवें, आठवें या बारवें घर में हो और लड़की की कुंडली में पहले, दूसरे, चौथे, सातवें, आठवें या बाहरवें घर में शनि हो तो मंगलीक कट जाता है जिस से वह दोनों विवाह कर सकते है ।।

 

|| कैसे करें अपनी सभी इछाये पूरी सिर्फ एक चक्र से – जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

क्या जिस व्यक्ति की कुंडली में मांगलिक दोष है वह अपने जीवन में कभी सफलता नहीं प्राप्त कर सकता ??

 

नहीं ऐसा कुछ नहीं है इस दोष से आर्थिक समस्याएं तो आती है पर इस समस्याओं को दूर करने के कुछ उपाये भी है जिन से हम छुटकरा पा सकते है उदाहरण के लिए ऐश्वर्या राय और अभिषेक बचन जो की मंगलीक है इसने विवाह से पहले कुज्ज विवाह सम्पन किया गया था उसके बाद उनका विवाह हुआ ||  ये दोनों ही एक कामयाब इंसान है ऐश्वर्या राय दुनिया की सबसे खूबसूरत अभिनेत्री है और इसको विश्व सुंदरी का परुष्कार मिला है यह आज की सबसे सफल इंसान है ।।

 

क्या मांगलिक दोष से विवाहिक जीवन में परेशानियां आती है ??

 

हाँ मंगलीक दोष से विवाहिक जीवन में परेशानियाँ आती है पर इन परेशानियों को दूर करने के लिए कुछ उपाय है जो आपके विवाहिक जीवन की परेशानियाँ दूर हो जाती है इस दोष वाले व्यक्तियों को हर मंगलवार के दिन उपवास रखना चाहिए और साथ में हनुमान चालीसा का जाप भी करना चाहिए  इस से मंगलीक दोष को काम होता है ।।

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Best Love Problem Solution Astrologer in India

What is love problem and who is love problem solution astrologer??

  • Love is the sweetest feeling only the person who has fallen in love can understand because it cannot be defined in words. When a person falls in love then this whole world seems to be heaven and the best place for him or her to live. The person in love is able to do such things which are beyond his or her limits. Love is like a worshipping so it has its influence on each and every person.

 

  • When two people fall in love then they wish to be with each other every time and when they are not together then they remain in each other’s thoughts. But when they both get separated from each other because of any kind of reason than the situations turns very painful and hard to be faced.

 

  • Love problem solution astrologer is the person who can solve all types of problems related to love. The people who are facing break up in their love relationship can take help from Love problem solution astrologer to get their lost girlfriend or boyfriend back in a very short time period. He is a master in this field and also famous as a love guru among the people.

 

|| How to do Black Magic? To Know Click Here! ||

 

 

  • I love someone but cannot express my feelings to that person can love problem solution astrologer help me in getting the love of that person?

 

  • Yes, there are many powerful remedies available in the astrology that can help you in getting the love of any particular person. Love problem solution astrologer is the expert in this field and master in practicing all types of astrological methods and remedies.

 

  • He can help you in creating love in the heart of the person whom you love. You can attain attractions and affections of any person by using the astrological remedy. The astrological remedies are very powerful that is practiced with the help of special mantras.

 

  • These mantras are derived from holy Vedas but these mantras are used with proper methodology. There are various types of mantras available in the old holy Vedas that are practiced for different types of purposes. Each and every kind of problem can be resolved by using different types of mantras.

 

|| Get Updates on latest Vashikaran tips. Like Our FB Page ||

 

  • Love problem solution astrologer possesses enough expertise in this field as he is working in this field from the last various years. You can contact him to get any kind of your problem resolved.

love-problem-solution-Astrologer

Who is Real and Authentic Love Problem Solution Astrologer??

  • Pandit R.K. Shastri Ji is a world famous astrologer for all the services related to astrology. People from different walks of life are in his client following.

 

  • He has won seven gold medals constantly for his astrology services. After doing research of several years on astrology he has written many books for the benefits of the common man. He has helped many people from all over the world by solving their different types of problems.

 

  • Pandit Ji works for the welfare of people and his all the services are available throughout the world. You can contact him by any means of communication and also can meet personally by taking prior appointment. Many programs are telecasted on several channels in which Pandit ji reveals the facts of astrology to clear the myths of people.

 

  • You can get any kind of your problem resolved from him. His predictions always amaze people as they come true word to word.

 

Services provided by Pandit R.K. Shastri ji:

  • -Kundli making, reading, matching and rectifying.
    -Palmistry, forehead, face and photo reading.
    -Vastu services.
    -Numerology and Gemmology.
    -Love problem solution.
    -All types of Vedic Pooja and rituals.

Vashikaran Specialist Astrologer

What is Vashikaran ??

 

Astrology is a very wide concept it not only helps in learning about the future and destiny of the people but also provides many useful remedies and methods to solve different types of problems of life.
 
Among these remedies and methods, Vashikaran is one of the most useful methods that has all the powers to sort out the issues related to a Love affair, love marriage, and married life. There are several techniques of practicing Vashikaran that are used for the different purposes.

 

Who is Vashikaran specialist Astrologer ??

 

The Vashikaran specialist astrologer is the master of this field who has all the knowledge that which method will work fast on which problem. The Vashikaran specialist astrologer is well versed in practicing all the rituals and have knowledge of all the mantras that are used to apply Vashikaran on any person.
 
All the methods of Vashikaran have based on powerful Vedic mantras these mantras are very powerful that delivers results very fast. The mantra is recited for the prescribed number of times and some rituals are practiced along with them to get desired results.

 

Pandit R.K. Shastri Ji is one of the most expert in this field who possess enough intellect and expertise in Vashikaran.

 

Why contact Vashikaran specialist astrologer??

 

When you’re any important work is struck and in spite of many requests the person is not ready to do that and you have no other option. Then you can contact Vashikaran specialist astrologer he will help you in getting your work done from that person.
 
He will apply special Vashikaran method on that person and will control the mind, thoughts, and feelings of that person and after that, he will change his thoughts and feelings according to your needs and desires. When that person becomes the target of Vashikaran then he will act according to you and will be ready to do anything for you. He will not deny your words and you will be able to get any kind of your work done from him.
 
There are many such problems for which you can contact Vashikaran specialist astrologer he will provide you the perfect solutions. Vashikaran is a very big subject and it needs very hard practices to become a vashikaran specialist. Basically, all the methods of Vashikaran are practiced with the help of powerful mantras that are present in the old holy Vedas. These mantras are enchanted for the prescribed number of times and some rituals are practiced along with them to attain desired results.

 

Who is the Vashikaran specialist astrologer for love problem solution??

 

Love relationship and marriage both are the most important relations in the life of the person because these both relations fill our life with charms and happiness. When everything is fine in these relations person feels himself on the seventh sky. But when any kind of issue arises in between the girlfriend and boyfriend or in husband and wife the situations and conditions become very painful and hard to be faced.
 
The Vashikaran specialist astrologer is the person who can solve all types of problems related to love affair, love marriage, and married life. If you are facing break up or you have lost your love following some kind of reasons then you can contact Vashikaran specialist astrologer for love problem solution to get your lost love back in a very short time period.
 
Pandit R.K. Shastri Ji is famous as a love guru among the people because he is the perfect astrologer for solving the love related problems. He has saved many people from break ups and divorces.

 
vashikaran-specialist-astrologer
 

How can Vashikaran be applied on any particular person ??

 

By using the complete name of the person.

 

By using the photo of the person.

 

By using any used cloth of the person.

 

By using some hair clots of the person.

 

By offering energized food or drink to the person.

 

Love Marriage Specialist Astrologer

Who is Love marriage specialist Astrologer?

There are two types of marriages solemnized in the society one is arranged marriage and the other one is the love marriage. The difference between both of them is that in arranged marriage the parents and elders of the family of the boy and the girl take the decision of their marriage.

But in love marriage first the boy and the girl first fall in love with each other and then after spending some time with each other they both themselves decide to spend their whole life with each other by making love marriage. But in some cultures and societies love marriages are not accepted because people think that love marriage brings bad name for the whole family. This is because from the older times only arranged marriages are practiced in our society so people avoid adopting the concept of love marriage.

So when the two people take the decision of making love marriage and after that when they reveal about their decision at home their parents stands against them. Now the biggest hurdle stands in their way to love marriage that cannot be resolved easily.

Love marriage specialist astrologer is the expert who can handle such situations very easily with the help of astrological remedies. He can remove all the hurdles and obstacles standing in the way of your love marriage.

 

How Love marriage specialist astrologer helps in getting the permission of parents for love marriage?

 

There are several types of remedies available in the astrology that are practiced to solve different types of problems which we face in different fields of life. Vashikaran is considered the most powerful remedy by which you can drive any person according to your wishes and needs.

By practicing this mantra you can control any person’s mind and can divert it as per your needs and desires. This method will make you able to control the thinking and feelings of the person and after that, you can convert them according to you. The person who comes under the influence of this method will follow all your words and will not say no to you for anything. He will do the same as you will ask him or her to do.

By applying this method many types of crucial problems of life can be handled cry smoothly and without facing conflicts and arguments with others. So this method is the best option for those who are not getting the consent of their parents for love marriage. You will not have to go against the wishes of your parents and also not have to argue with them.

 

Who is Intercaste love marriage specialist astrologer?

 

In many cultures, there is a trend to marry the boy and girl in the same caste and community. Parents do not marry their children in other castes so the two lovers who belong to different castes belong to different castes want to make love marriage have to face huge problems.

To sort out such problems Intercaste love marriage specialist astrologer is the best option. Pandit R.K. Shastri Ji is the world famous astrologer for all these types of services. He has helped many people by solving their different types of problems. He has a huge satisfied client following from throughout the world. He has won seven gold medals constantly for his services in the same field.

He has written several books on the subject of astrology which is very useful for the common people to understand astrology in an easy manner. If you want to get any kind of advice or service related to astrology you can contact him.

love-marriage-specialist-astrologer in chandigarh, delhi, mumbai, bangalore

Some of the services provided by Pandit R.K. Shastri Ji:

 

kamakhya sindoor

कामाख्या सिन्दूर

 

क्या होता है कामाख्या सिन्दूर ??

 

माँ कामख्या देवी सती का स्वरूप है जो की राजा दक्ष की पुत्री थी और वो भगवान शिव जी से प्रेम करती थी और उनसे शादी करना चाहती थी मगर राजा दक्ष को ये मंजूर नहीं था || माँ सती ने भगवान शिव से पिता की इच्छा के विरुद्ध भगवन शिव से शादी कर ली तो राजा दक्ष ने भगवान् शिव को बहुत अप शब्द बोले जिनको सती बर्दाश्त नहीं कर पायी इसलिए उन्होंने आत्म दाह कर लिया || सती को मृत देख कर भगवान शिव को बहुत गुस्सा आ गया और वो सती के शरीर को उठा कर तांडव करने लगे जिससे पूरा ब्रह्माण्ड कांपने लगा यह देखकर भगवान विष्णु ने शिव जी का सती से मोह ख़त्म करने के लिए अपने सुदर्शन चक्र से माँ सती के शरीर के 51 भाग कर दिए ||

 

यह सारे भाग पृथ्वी पर अलग अलग जगह पर गिरे और सती का जो योनि भाग था वो असम की राजधानी गुहाटी से 8 किलोमीटर दूर नीलांचल पर्वत पर जाकर गिरा जहा पर माँ कामख्या के 51 शक्ति पीठो में से एक है और यह सबसे शक्तिशाली पीठ है || यही पर माँ कामख्या देवी का एक बहुत भव्य मंदिर है || इस मंदिर में माँ कामख्या की कोई मूर्ति स्थापित नहीं की गयी है केवल एक योनि आकृति का पत्थर स्थापित किया गया है || इस मंदिर की महिमा यह है की हर साल तीन दिन के लिए इस योनि से रजस्व होता है || इस मंदिर में उन् तीन दिनों के बाद खुलने पर सबको एक लाल रंग के पत्थर नुमा दिखने वाला सिन्दूर दिया जाता है जिसमे कुछ चमकने वाले कण भी होते है इसी को कामाख्या सिन्दूर कहा जाता है ||

 

|| नीचे कामाख्या सिन्दूर को इस्तेमाल करने की पूरी विधि दी हुई है कृपा इसे इस्तेमाल करने से पहले ध्यान से पढ़ ले ||

 

कामख्या सिन्दूर के क्या क्या लाभ है ??

 

(1) शादी में रुकावटें आ रही हो तो कामाख्या सिन्दूर का विधि पूर्वक इस्तेमाल करके वो रुकावटों से मुक्ति पायी जा सकती है ||

 

(2) खोया प्यार वापिस पाने के लिए ||

 

(3) पति पत्नी में होने वाली अनबन को दूर करने के लिए ||

 

(4) किसी भी इंसान का प्यार हासिल करने के लिए ||

 

(5) अपने माता पिता को लव मैरिज के लिए मनाने के लिए ||

 

|| कैसे करें अपनी सभी इछाये पूरी सिर्फ एक चक्र से – जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

(6) मनचाहे इंसान से शादी करने के लिए ||

 

(7) औलाद पाने के लिए ||

 

(8) पुत्र प्राप्ति के लिए ||

 

(9) किसी भी इंसान का वशीकरण करने के लिए ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

कैसे करते है कामख्या सिन्दूर से किसी का वशीकरण ??

 

(1) सबसे पहले कामख्या सिन्दूर को पीसकर पाउडर बना लें ||

 

(2) फिर उसको चांदी की या ताम्बे की डब्बी में डाल लें ||

 

(3) डब्बी को खोलकर अपने सामने रख लें ||

 

(4) अब नीचे दिए गए मन्त्र का 131 बार जाप करें ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“कामाख्याम कामसम्पन्ना कामेश्वरी हरप्रिया | कमाना देहि में नित्य कामेश्वरी नमोस्तुते ||”
” कामाख्याये वरदे देवी नीलपावर्ता वासिनी | त्व देवी जगत माता योनिमुद्रे नमोस्तुते || “

 

(5) एक मिटटी से बना पुतला लें ||

 

(6) पुतले के साथ उस इंसान की फोटो लाल धागे से बांध दें ||

 

(7) फिर उसको लाल कपडे पर रख दें ||

 

(8) उसके सामने एक सफ़ेद मोमबत्ती जला दें ||

 

(9) दिए गए मन्त्र को 31 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“कामाख्याम कामसम्पन्ना कामेश्वरी हरप्रिया | कमाना देहि में नित्य कामेश्वरी नमोस्तुते ||”
” कामाख्याये वरदे देवी नीलपावर्ता वासिनी | त्व देवी जगत माता योनिमुद्रे नमोस्तुते || “

 

|| ये मंत्र कर देगा आपकी पुत्र संतान की इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

(10) अब थोड़ा सा कामाख्या सिन्दूर फोटो पर लगा दें ||

 

(11) थोड़ा सा अपने माथे पर लगा लें ||

 

(12) पुतले को लाल कपडे में बांधकर शमशानघाट में छोड़ आएं ||

 

(13) बहुत जल्द वो इंसान आपके वश में होगा ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Sphatik mala

 स्फटिक माला (Sphatik mala )

 

क्या होता है स्फटिक (Sphatik ) ??

 

स्फटिक अन्य रत्नो की तरह एक रत्न होता है जो की सिलिकॉन और ऑक्सीजन के एटम्स के मिलने से बना होता है यह देखने में बिलकुल कांच जैसा होता है और पारदर्शी होता है || इसका कोई भी रंग नहीं होता और इसको प्योर स्नो और वाइट क्रिस्टल भी कहा जाता है || यह रत्न बहुत ठंडी प्रवति का होता है और इसकी खूबी यह है की इसको जितनी भी धूप में रखा जाये फिर भी यह गरम नहीं होता ठंडा ही रहता है ||

 

इस रत्न को आभूषण के तौर पर शरीर पर धारण किया जाता है इसके बने हुए हार और कंगन बहुत लोकप्रिय है || स्फटिक के मनको में बहुत सी बीमारियों को ठीक करने की शक्ति होती है और रक्त विकार दूर करने के लिए भी बहुत उपयोगी है || पुराने समय से हमारे ऋषि, मुनि और वैद इसका इस्तमाल करते आये हैं || वैद इसका भस्म का इस्तेमाल बहुत सारी बीमारयां ठीक करने के लिए इस्तेमाल करते थे और अब भी किया जाता है || वेद शास्त्रों में इसके इस्तमाल के बहुत से फायदे बताये गए हैं ||

 

|| नीचे स्फटिक माला को इस्तेमाल और धारण करने की पूरी विधि दी हुई है कृपा इसे इस्तेमाल करने से पहले ध्यान से पढ़ ले ||

 

स्फटिक माला (Sphatik mala ) के उपयोग :

 

(1) जो भी इंसान स्फटिक के मनको की माला पहनता है वो शांत रहता है और उसको कभी भी गुस्सा नहीं आता ||

 

(2) स्फटिक माला को पहनने से इंसान सेहतमंद रहता है और बीमारियों से बचा रहता है ||

 

(3) स्फटिक इंसान के शरीर का रक्त चाप ठीक रखता है ||

 

(4) यह माला इंसान से भूत प्रेत और नकारात्मक शक्तिओं को दूर रखती है ||

 

(5) 108 मनको वाली स्फटिक माला का इस्तेमाल करके नीचे दिया गया सरस्वती मन्त्र का सात सोमवार लगातार जाप करने से हर कार्य में सफलता मिलती है ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

|| सरस्वती मंत्र : ||

 

“सरस्वती नमस्तुभ्यं वरदे कामरुपिणि विद्यारंबम करिष्यामि सिद्धि र बावतुमे साधा”

 

(1) बुधवार के दिन स्फटिक माला का इस्तेमाल करके माँ लक्ष्मी का माला के तीन चक्र का जाप करने से हर में लक्ष्मी आती है और धन में वृद्धि होती है || मन्त्र का जाप चार बुधवार लगातार करना है ||

 

|| मंत्र : ||

 

“ॐ ह्रीं श्रीम लक्ष्मीभयो नमः॥”

 

|| ये मंत्र कर देगा आपकी पुत्र संतान की इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

(1) घर में सुख शांति के लिए और घर में खुशीआं बढ़ाने के लिए स्फटिक माला का इस्तेमाल करके माँ दुर्गा का यह मन्त्र रोज़ जाप करें || एशिया करने से आपके घर में कभी मन मुटाव नहीं होगा और घर में शांति और बरकत बानी रहेगी ||

 

|| मंत्र : ||

 

” हे गौरी शंकरधंगी ! यथा तवं शंकरप्रिया,
तथा मां कुरु कल्याणी ! कान्तकान्तम् सुदुर्लभं”

 

जरुरी जानकारी :

 

|| कैसे करें अपनी सभी इछाये पूरी सिर्फ एक चक्र से – जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

(8) स्फटिक माला को पहनने से पहले माला को इस्तेमाल करने से पहले माला को मंत्रो द्वारा प्राण प्रतिष्ठित किया जाता है इसके बिना यह माला किसी काम की नहीं है || अगर आप चाहते है स्फटिक माला का इस्तेमाल करना तो यह दो बातें जरूर याद रखें की एक तो स्फटिक माला के मनके बिलकुल असली हो और दूसरा माला को मंत्रो द्वारा प्राण प्रतिष्ठित किया गया हो ||

 

स्फटिक माला को प्राण प्रतिष्ठित करने का पूरा तरीका :

 

(1) सबसे पहले पूर्णिमा वाले दिन सूर्यास्त के समय नहा कर सफ़ेद कपडे धारण कर लें ||

 

(2) फिर उत्तर दिशा की तरफ मुंह कर के बैठ जाएं ||

 

(3) अब अपने सामने लाल रंग का कपडा बिछा लें ||

 

(4) फिर स्फटिक माला को ताम्बे के पात्र में साफ़ पानी में डाल दें ||

 

(5) उसको लाल कपडे के ऊपर रख दें ||

 

(6) फिर उसके सामने एक घी का दिया जला लें ||

 

(7) अब नीचे दिए गए मन्त्र का 111 बार जाप करें ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मंत्र : ||

 

” ऐं ह्रीं अक्षमालिकायै नमः।
ॐ मां माले महामाये सर्व शक्ति स्वरूपिणि।
चतुर्वर्गः त्वयि न्यस्तः तस्मान्मे सिद्धिदा भव।।”

 

(8) यह क्रिया आपने 11 दिन तक लगातार करनी है ||

 

(9) 11 वें दिन माला को दोनों आँखों पर लगाकर धारण कर लें | |

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Gidar singhi

गीदड़ (सियार) सिंघी

 

गीदड़ एक वन्य प्राणी है जिसे सियार भी कहा जाता है इस प्रजाति के बहुत सी नस्ले होती है और एक नस्ल ऐसी भी होती है जिसके माथे के ऊपर एक बहुत छोटा सा सींघ होता है जो थोड़ा सख्त होता है और उसके ऊपर भूरे और काले रंग के बाल होते हैं || इसको गीदड़ सिंघी कहा जाता है मगर सींग वाला गीदड़ बहुत हे दुर्लभ नस्ल है ||

 

गीदड़ सिंघी की ज्योतिष में बहुत ही महत्वता है क्यूंकि इसमें नकारात्मक ऊर्जाओं को ख़त्म करने और सकारत्मक ऊर्जाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने की शक्ति होती है || गीदड़ सिंघी के उपयोग से इंसान बहुत ही भाग्यशाली बन सकता है और बहुत सारा धन प्राप्त कर सकता है ||

 

अगर गीदड़ सिंघी को अभिमंत्रित कर लिया जाये तो इसकी शक्ति कई गुना बढ़ जाती है || गीदड़ सिंघी को सिन्दूर की डिब्बी में बंद करके रखा जाता है ||

 

|| नीचे दी हुई विधि को कृपा उसे इस्तेमाल करने से पहले उसे ध्यान से पढ़ लें क्योंकि इस विधि में गलती की कोई गुंजाइश नहीं है ||

 

गीदड़ सिंघी के उपयोग :

 

(1) धन और सम्पति प्राप्त करने के लिए ||

 

(2) भाग्यशाली बनने के लिए ||

 

(3) किसी भी क्षेत्र में सफलता हासिल करने ले लिए ||

 

(4) पति पत्नी के बीच की अनबन ख़त्म करने के लिए ||

 

(5) व्यवसाय में अधिक मुनाफा कमाने के लिए ||

 

(6) मनचाहा प्यार पाने के लिए ||

 

(7) किसी को भी अपने तरफ आकर्षित करने के लिए ||

 

(8) क़र्ज़ मुक्त होने के लिए ||

 

(9) कोर्ट केस में जीत हासिल करने के लिए ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

कैसे करते है गीदड़ सिंघी का प्रयोग??

 

गीदड़ सिंघी को उपयोग में लाने से पहले उसको अभिमंत्रित किया जाता है जिससे उसकी शक्ति कई गुना हो जाती है फिर आप उसके इस्तेमाल से अपने मन की कोई भी इच्छा पूरी कर सकते है ||

 

गीदड़ सिंघी अभिमंत्रित करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले अमावस्या की रात को लाल कपडे के ऊपर गीदड़ सिंघी रख लें ||

 

(2) फिर उसके ऊपर थोड़ा सा गंगाजल छिड़कें ||

 

(3) फिर गीदड़ सिंघी के ऊपर थोड़ा सा कामाख्या सिन्दूर डालें ||

 

(4) अब उसके साथ पांच लौंग और एक सुपारी रख दें ||

 

(5) गीदड़ सिंघी के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाएं ||

 

(6) अब कुछ चावल अपनी मुठी में लेकर नीचे दिए गए मन्त्र का 101 बार जाप करें ||

 

|| सबसे खतरनाक 10 शाबर सिद्ध मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ ओम ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चै:”

 

(7) अब चावलों को गीदड़ सिंघी के ऊपर डाल दें ||

 

(8) यह क्रिया आपने तीन सोमवार लगातार करनी है ||

 

(9) तीसरे सोमवार को गीदड़ सिंघी को सिन्दूर की डिब्बी में रख लें ||

 

(10) और बाकी सामग्री किसी पेड़ के नीचे दबा देंऔर बाकी सामग्री किसी पेड़ के नीचे दबा दें ||

 

(11) हर मंगलवार को गीदड़ सिंघी को माथे पर लगाएं और उस पर सिन्दूर चढ़ाएं ||

 

|| गोमती चक्र के 10 चमत्कारी रहस्य जो कर देगें आपकी हर इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

गीदड़ सिंघी वशीकरण उपयोग :

 

इस उपयोग से आप किसी भी इंसान को अपने वश में कर सकते है और उसके बाद उससे अपनी मर्ज़ी से कुछ भी करवा सकते है यह बहुत चमत्कारी उपयोग है जो बहुत जल्द असर करता है ||

 

गीदड़ सिंघी वशीकरण करने का तरीका :

 

(1) गीदड़ सिंघी उस इंसान की फोटो पर रख दें जिसको अपने वश में करना है ||

 

(2) उसके ऊपर थोड़ा सा सिन्दूर डाल दें ||

 

(3) अब एक निम्बू लें और अपने सर के ऊपर से सात बार घुमाएं ||

 

(4) निम्बू को गीदड़ सिंघी के साथ रख दें ||

 

(5) अब नीचे दिए गए मन्त्र को 151 बार जाप करें ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ओम ह्रीं क्लीं अमुकी क्लेदय क्लेदय आकर्षय आकर्षय,
मथ मथ पच पच द्रावय द्रावय मम सन्निधि आनय आनय,
हुं हुं ऐं ऐं श्रीं श्रीं स्वाहा”

 

(6) अब गीदड़ सिंघी के ऊपर से सिन्दूर लेकर अपने माथे पर तिलक करें ||

 

(7) गीदड़ सिंघी को डिब्बी में रख दें और निम्बू को चौराहे में छोड़ आये ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Aghori baba

अघोरी बाबा

 

भारत वर्ष में कई तरह के योगी, संत, साधु और सन्यासी पाए जाते हैं और अघोरी बाबा एक ऐसे सन्यासी होते हैं जो इस संसार की मोह माया को तयाग कर बहुत कठिन तप और साधना करते है || लोग इनके पहरावे को देख कर और इनके साधना करने के तरीको को देख कर यह समझते है की यह बहुत खतरनाक होते है, मगर यह सभ एक भ्रम है ||

 

अघोरी बाबाओं को हम शमशानघाट में तपस्या करते हुए देख सकते है || यह लोग आत्माओं और जिन्नो के दुनिया बहुत अच्छी जानकारी रखते है और भूत प्रेत इनके वश में होते है और इनके पास किसी भी आत्मा को बुलाने की शक्ति होती है || यह अपने शरीर पर भस्म लगा कर रखते हैं || अघोरी बाबा के पास हर समस्या को समाधान करने के लिए अघोरी टोटके और मन्त्र होते है जिनके इस्तेमाल से वो लोगों की परेशानियां दूर करने में मदद करते है ||

 

|| नोट – किसी भी मन्त्र का इस्तेमाल करने से पहले उस मन्त्र और उसकी प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ ले क्योंकि इस मंत्र में गलती की कोई गुंजाइश नहीं है ||

 

अघोरी बाबाओं के 10 सबसे खतरनाक उपाए जो कर देंगे आपकी सभी समस्याओं का समाधान

 

जीवन में धन की कमी दूर करने के लिए

 

अगर आपकी आमदनी कम है और खर्चा ज्यादा है या आप कमाते अच्छा है मगर फिर भी कुछ बचता नहीं है तो अघोरी बाबा का दिया यह उपाए करें और अपने जीवन में धन की कमी को बहुत जल्द पूरा करें ||

 

इस उपाए को करने के लिए जरुरी सामग्री:

 

(1) चन्दन पाउडर ||

 

(2) हल्दी ||

 

(3) एक कलश ||

 

(4) 108 मनको वाली रुद्राक्ष की माला ||

 

(5) एक नारियल ||

 

(6) थोड़े से फूल ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

इस उपाए को करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले चन्दन पाउडर , हल्दी और गंगाजल को मिला लें ||

 

(2) अपने दाएं हाथ की ऊँगली से पान के पत्ते पर स्वस्तिक का चिन्ह बनाएं ||

 

(3) फिर पान के पत्ते के ऊपर पांच लौंग और थोड़े से चावल रख दें ||

 

(4) अब नीचे दिए गए मन्त्र को 86 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ “ॐ गजाननं भूतगणादि सेवितं कपित्थ जम्बूफलसार भक्षितम् ।
उमासुतं शोक विनाशकारणं नमामि विघ्नेश्वर पादपङ्कजम् ॥”

 

(5) फिर पाने के पत्ते में सामग्री को लपेट लें ||

 

(6) और अपने घर के मुख्य द्वार पर बाहर की दोनों तरफ स्वस्तिक का चिन्ह बना दें ||

 

(7) पान में लपेटी सामग्री को किसी नदी या झील में डाल आएं ||

 

इस उपाए को करने के लिए आवश्यक जानकारी :

 

(1) पहले घर के मुख्य द्वार पर स्वस्तिक के चिन्ह बना लें उसके बाद ही पान में लपेटी सामग्री घर से बहार ले जाएं ||

 

(2) इस उपाए को आपने शुक्रवार के दिन करना है ||

 

(3) स्वस्तिक चिन्ह अपने दाएं हाथ की तर्जनी ऊँगली से ही बनाना है ||

 

किसी भी तरह के जादू या ऊपरी कसर को ख़त्म करने का उपाए

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

आपको इस उपाए के लिए चाहिए यह सामग्री :

 

(1) एक निम्बू ||

 

(2) सात हरी मिर्चें ||

 

(3) सिन्दूर ||

 

(4) सफ़ेद मोमबत्ती ||

 

(5) एक माचिस ||

 

(6) काला कपडा ||

 

(7) एक मुठी नमक ||

 

(8) सात सुइयां ||

 

|| जानिए कैसे करते हैं चाय पिला कर वशीकरण जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

इस उपाए को करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले उस इंसान के सामने एक सफ़ेद मोमबत्ती जला दें जिसके ऊपर से जादू या ऊपरी कसर खत्म करनी है ||

 

(2) फिर निम्बू को दो हिस्सों में काट लें ||

 

(3) दोनों हिस्सों के अंदर की तरफ थोड़ा थोड़ा सिन्दूर लगा दें ||

 

(4) फिर निम्बू के दोनों टुकड़ों को जोड़कर उसमे सात सुईयां चुभा दें ||

 

(5) अब निम्बू को काले कपडे के ऊपर रख दें ||

 

(6) निम्बू के साथ सात हरी मिर्चें भी रख दें ||

 

(7) अब अपने दाएं हाथ की मुठी में नमक ले लें ||

 

(8) नीचे दिए गए मन्त्र को 101 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ “शुक्लाम्बरधरं विष्णुं शशिवर्णं चतुर्भुजम् ।
प्रसन्नवदनं ध्यायेत् सर्वविघ्नोपशान्तये ॥”

 

(9) मुठी में लिए नमक को उस इंसान के सर के ऊपर से सात बार घुमाएं जिसके ऊपर से जादू ख़त्म करना है ||

 

(10) अब नमक को नीबू और हरी मिर्चों पर डाल दें ||

 

(11) फिर सारी सामग्री को काले कपडे में लपेट लें ||

 

(12) काले कपडे को शमशानघाट में जाकर छोड़ आएं ||

 

इस उपाए को करने के लिए जरुरी जानकारी :

 

(1) यह उपाए वहां करें जहा वो इंसान सोता है जिसके ऊपर जादू किया हुआ है ||

 

(2) इस उपाए को शनिवार सूर्यास्त के बाद करें ||

 

(3) मन्त्र का उच्चारण सही ढंग से करें ||

 

(4) सामग्री छोड़कर पीछे मुड़कर न देखें ||

 

|| 8 सबसे खतरनाक और अचूक शाबर मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

शादी में आने वाली सभी समस्याओं को दूर करने का उपाए

 

यह उपाए उनके लिए है जिनकी शादी नहीं हो रही या फिर शादी में देर हो रही है इस उपाए को करने से आपकी शादी में आने वाली हर अड़चन दूर हो जाएगी और आपकी शादी बहुत जल्द हो जाएगी ||

 

आपको इस उपाए के लिए चाहिए यह सामग्री :

 

(1) एक भोज पत्र ||

 

(2) सिन्दूर||

 

(3) थोड़ी सी शमशानघाट की राख ||

 

(4) एक अनार के पेड़ की छोटी सी टहनी ||

 

(5) गुलाब जल ||

 

(6) लाल धागा ||

 

(7) एक पात्र ||

 

(8) दो छोटी इलायची ||

 

(8) थोड़ी सी मिश्री ||

 

इस उपाए को करने का तरीका :

 

(1) पात्र में सिन्दूर, शमशानघाट की राख और थोड़ा सा मिलकर स्याही बना लें ||

 

(2) फिर अनार के पेड़ की टहनी को कलम की तरह इस्तेमाल करके भोज पत्र पर नीचे दिया गया मन्त्र लिखें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ “ॐ हुं गं ग्लौं हरिद्रा गणपत्ये वर वरद सर्वजन ह्र्दयं स्तम्भय स्तम्भयं स्वाहा”

 

(3) उसके बाद भोज पत्र के ऊपर दो इलाइची राख दें ||

 

(4) अब इसी मन्त्र को 151 बार जाप करके मिश्री पर फूंक मार ||

 

(5) मिश्री को भोज पत्र के ऊपर रख दें ||

 

(6) सभी चीज़ों को भोजपत्र में लपेट कर लाल धागे सी बांध दें ||

 

(7) फिर उसको चौराहे में जाकर छोड़ आएं ||

 

इस उपाए को करने के लिए जरुरी जानकारी :

 

(1) यह उपाए अपने लगातार तीन बुधवार करना है ||

 

(2) हर बुधवार उपाए करने का समय एक ही रहेगा ||

 

(3) लड़किआं अपने माहवारी के दिनों में इस उपाए को न करें ||

 

(4) उपाए के बारे में किसी को कुछ न बताएं ||

 

|| दुनिआ के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

खोया प्यार वापिस पाने का चमत्कारी उपाए

 

अगर आपका प्रेमी या प्रेमिका आपसे नाराज़ है और आपसे बात नहीं कर रहे या फिर आपके पार्टनर ने आपको छोड़ दिया है और आप उसको वापिस पाना चाहते है तो बाबा जी का यह चमत्कारी उपाए करें और बहुत जल्द अपना खोया हुआ प्यार वापिस पाएं ||

 

आपको इस उपाए के लिए चाहिए यह सामग्री :

 

(1) एक कपडे का पुतला ||

 

(2) एक ताम्बे का सिक्का ||

 

(3) एक मुठी उरद की डाल ||

 

(4) दो पान के पत्ते ||

 

(5) सिन्दूर ||

 

(6) केसर ||

 

(7) पीला कपडा ||

 

इस उपाए को करने का तरीका :

 

(1) अपने दाएं हाथ की ऊँगली के साथ सिन्दूर से एक पान के पत्ते पर अपना नाम लिखे और दुसरे पर अपने पार्टनर का नाम लिखे ||

 

(2) फिर उनको पीले कपडे पर रख दें ||

 

(3) उसके ऊपर पुतला रख दें ||

 

(4) अब उसके ऊपर एक मुठी उरद की दाल डाल दें ||

 

(5) फिर नीचे दिए गए मन्त्र का 171 बार जाप करें ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ॐ भरा भरा भू भैरव स्वः, ॐ भान भान भान श्रीम कलीम मोहनाया स्वः”

 

(6) उसके बाद ताम्बे के सिक्के को अपने सर के ऊपर से पांच बार घुमाएं ||

 

(7) सिक्के को पुतले के ऊपर रख दें ||

 

(8) सारी सामग्री को पीले कपडे में लपेट लें ||

 

(9) और उसको शमशानघाट में छोड़ आएं ||

 

|| कैसे बने वशीकरण की शक्तियों के बेताज बादशाह और करें मनचाहे इंसान को अपने वश में -जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

इस उपाए से करें अपने ग्रह कलेश को हमेशा के लिए दूर

 

अगर आपके घर में रोज़ परिवार में लड़ाई झगड़ा होता है या फिर आपके घर में कोई न कोई विवाद हमेशा खड़ा रहता है तो इस उपाए को करके लाएं अपने घर में शांति और सुकून ||

 

उपाए :

 

हर शनिवार के दिन पीपल के पेड़ को एक लोटा पानी दें और सूर्यास्त के समय उसके नीचे आटे का दिया जलाएं इसके साथ पक्षियों को बाजरा जरूर डालें | यह बहुत ही शक्तिशाली उपाए है और इसका रिजल्ट भी बहुत जल्द मिलता है ||

 

बिज़नेस में ज्यादा मुनाफा कमाने का उपाए

 

अगर आपका बिज़नेस घाटे में चल रहा है या आप अपना बिज़नेस बढ़ाना चाहते है तो अघोरी बाबा जी का दिया गया यह टोटका जरूर करें और बचे बिज़नेस में पड़ने वाले घाटे से और कमाएं अधिक मुनाफा ||

 

चार काली मिर्च के दाने, दो लौंग और एक चांदी का सिक्का लाल कपडे में बांध लें फिर उसको अपने हाथ में लेकर नीचे दिए गए मन्त्र को 151 बार जाप करें || फिर उसके बाद चार काली मिर्च के दानो को अपने बिज़नेस करने वाली जगह एक एक दाना चारो कोनो में रख दें || दो लौंग और चांदी का सिक्का अपनी तिजोरी में रख लें || यह छोटा सा उपाए करके आप बच सकते है बिज़नेस में होने वाले घाटे से और बन सकते है मालोमाल ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ॐ श्री महालक्ष्म्यै च विद्महे विष्णु पत्नयै च धीमहि तन्नो लक्ष्मी प्रचोदयात ॐ”

 

|| ये मंत्र कर देगा किसी भी स्त्री को आप के साथ काम क्रिया के लिए मजबूर – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

किसी भी लड़की को वश में करने का उपाए

 

अगर आप किसी लड़की से दिल ही दिल में बहुत प्यार करते है मगर आप उसको बताने सी डरते है मगर आपकी यह दिली ख्वाहिश है की उस लड़की का प्यार हासिल करना है तो आप वशीकरण मन्त्र का इस्तेमाल करके उस लड़की के दिल में अपने लिए प्यार जगा सकते है फिर वो लड़की खुद ही अपने प्यार का इजहार कर देगी या आपको उसकी बातों से पता चल जायेगा ||

 

उपाए :

 

थोड़ी सी चीनी लें और नीचे दिए गए मन्त्र का 121 बार जाप करें | उसके बाद चीनी पर फूंक मार दें फिर यही चीनी का इस्तेमाल करके कोई खाने की चीज़ बनाये और उस लड़की को खिला दें जिसको आप बहुत ज्यादा पसंद करते हैं | वो लड़की वो चीज़ खाने के 24 घंटे में आपको प्यार करने लगेगी ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ॐ भगवती भग भाग दायनी देव दन्ती मम वंश्य करु करु स्वाहा ||”

 

नौकरी पाने के लिए उपाए

 

अगर आपकी नौकरी नहीं लग रही है आपने अपनी तरफ से बहुत प्रयास करने के बाद भी सफलता नहीं मिली तो निराश होने की जरुरत नहीं है | आप यह दिए गए उपाए को करके मनचाही नौकरी पा सकते है यह उपाए बहुत ही शक्तिशाली है इसको करके आप निराश नहीं होंगे ||

 

उपाए :

 

रोज़ सुबह स्नान करने के बाद बिना कुछ खाये शिव जी के मंदिर में जाकर ताम्बे के लोटे में जल भरकर शिवलिंग पर चढ़ाएं और साथ में थोड़े से चावल भी चढ़ाएं | यह उपाय आपने रोजाना उस दिन तक करना है जब तक आपकी नौकरी नहीं लग जाती || जल चढ़ाते समय “ॐ नमः शिवाये” का जाप भी करते रहे ||

 

औलाद पाने के लिए उपाए

 

यह उपाए उस दंपत्ति के लिए है जिनके शादी को काफी समय हो गया है फिर भी उनकी गोद सूनी है | अगर आपने काफी प्रयत्न किये और डॉक्टरों के पास भी इलाज करवाया मगर फिर भी आपके घर औलाद नहीं हुई तो आप इस दिए गए उपाए को करें | इस उपाए को करने से आपके घर भी औलाद हो जाएगी ||

 

शास्त्रों में पुत्र प्राप्ति का अचूक और रामबाण उपाय बताया गया है संतान गोपाल मंतर || संतान गोपाल मंत्र के इस्तेमाल से कोई भी पुत्र रतन की प्राप्ति कर सकता है, पर यदि आप अघोरी मंत्र या विद्या का इस्तेमाल करना चाहते  है तो अघोरी विद्या का आसान और असरदार उपाय निचे दिया गया है ||

 

उपाए :

 

अपने घर के मंदिर में लड्डू गोपाल की मूर्ति स्थापित करें और रोज़ उसके सामने पति और पत्नी उसके सामने संतान गोपाल मन्त्र का जाप दस मिनट तक करें और घी का दिया जलाकर माखन और कोई भी सफ़ेद मिठाई का भोग लगाएं | माहवारी के तीसरे दिन से सहवास करना शुरू करे बहुत जल्द आपके बच्चा हो जायेगा ||

 

सभी तरह की परेशानिओ से छुटकारा पाने का उपाए

 

अगर आप हर वक्त किसी न किसी परेशानी में घिरे रहते हैं और एक परेशानी ख़त्म होते ही दूसरी परेशानी आपकी ज़िंदगी में आ जाती है तो आप यह उपाए करके अपनी जिंदगी में आने वाली हर मुश्किल और परेशानी से बच सकते है | इस उपाए को करके आप अपनी ज़िंदगी को खुशिओं से भर सकते है ||
 
वैसे तो गोमती चक्र वैदिक शास्त्रों का एक अचूक उपाय है अपनी जिंदगी से जुड़ी सभी परेशानिओ को जड़ से ख़त्म करने की भी हम यहाँ पर अघोरी  साधु या अघोरी तांत्रिक उपाय की बात करेंगे ||

 

उपाए :

 

हर शुक्रवार के दिन घर में बनने वाली सबसे पहली रोटी लें और उसमें थोड़ा सा गुड़ रख कर गाये को खिलाएं और रोज़ रात के समय ताम्बे के बर्तन में जल भर लें और उसमें थोड़ा सा चन्दन मिला कर अपने सिरहाने के पास रख दें और सुबह होने पर उस जल को तुलसी के पौधे पर चढ़ा दें ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Gomti chakra

Gomti Chakra

क्या होता है गोमती चक्र ??

 

भारत की प्रसिद्ध नदियों में से एक नदी है जिसका नाम है गोमती || यह नदी श्री कृष्ण जी की द्वारिका नगरी में है|| गोमती चक्र जो की सिप्पी के जैसा एक पत्थर होता है वो इसी नदी में पाया जाता है || गोमती चक्र एक तरफ से पत्थर जैसा होता है और एक तरफ से समतल होता है ||
 
इस समतल के ऊपर एक सांप जैसा आकार बना होता है इसीलिए गोमती चक्र को नाग चक्र भी कहा जाता है || वेदों शास्त्रों में गोमती चक्र के बहुत से उपयोग बताये गए है और इसको कैसे इस्तेमाल करना है उसका विवरण भी वेदो में स्पष्ट बताया गया है ||

 

|| नीचे गोमती चक्र की इस्तेमाल की पूरी विधि दी हुई है कृपा इसे इस्तेमाल करने से पहले ध्यान से पढ़ ले अन्यथा गोमती चक्र से आपको मन मुताबिक़ सफलता नहीं मिलेगी ||

 

गोमती चक्र की महिमा यहाँ से पता चलती है की पुराने समय से ही गोमती चक्र का इस्तेमाल पूजा, साधना, तांत्रिक प्रयोगों और कई तरह के टोटके करने में किया जाता रहा है || गोमती चक्र को सुदर्शन चक्र भी कहा जाता है जो की श्री कृष्ण का एक बहुत शक्तिशाली हथियार है और गोमती चक्र बिलकुल वैसा ही दिखाई देता है ||
 
गोमती चक्र को इस्तेमाल करने से आप कई तरह की परेशानिओं और कठनाईओं से बच सकते है और इसके इस्तेमाल से आप अपनी कुंडली में बने हुए कई तरह के दोषों से भी छुटकारा पा सकते है || पुराने समय में लोग गोमती शकर को गहनों की तरह भी इस्तेमाल करते थे जिससे एक तो वो नकारात्मक शक्तिओं के प्रभाव से बचे रहते थे और भाग्यशाली बनते थे ||

 

गोमती चक्र इस्तेमाल करने के लिए आवश्यक जानकारी : –

 

अगर आप किसी भी काम के लिए गोमती चक्र इस्तेमाल करना चाहते है तो यह ध्यान रखें की गोमती चक्र जीवित भी होते हैं  और निर्जीव भी मगर आपको सिर्फ और सिर्फ जीवित गोमती चक्र का ही इस्तेमाल करना है ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

कैसे पता लगाएं की गोमती चक्र जीवित है या निर्जीव ??

 

जीवित गोमती चक्र को पहचानने के लिए दो तरीके है पहला ये की जब आप जीवित गोमती चक्र के ऊपर थोड़ा सा सिरका डालेंगे तो उस में से छोटे छोटे बुलबुले पैदा होंगे और दूसरा आप गोमती चक्रो को जोड़ो में रख दें उनको ऐसे रखना है की वो आपस में टच न करें फिर उनके ऊपर थोड़ा थोड़ा सिरका डाल दें और सुबह होने पर जो जीवित गोमती चक्र होंगे वो आपस में जुड़ जायेंगे और जो निर्जीव होंगे वो अकेले रहेंगे ||

 

|| क्या आप पुत्र संतान की प्राप्ति चाहते है तो ये मंतर कर देगा आपकी इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

गोमती चक्र के उपयोग 

 

1. जब भी कोई नयी ईमारत बनाई जाती है चाहे वो रहने के लिए या फिर व्यवसाय के लिए तो ईमारत बनाते समय एक गोमती चक्र को उसकी नींव में दबा दिया जाता है || ऐसा करने से उस ईमारत में रहने वाले सभी लोगों का भाग्य उदय होता है और ईमारत को भी कोई नुकसान नहीं पहुंचता ||

 

2. गोमती चक्र को लाल कपडे में बांधकर चावलों में या गेंहू में रख दिया जाता है ऐसा करने से घर में कभी अनाज की कमी नहीं होती और घर में खुशीआं आती है ||

 

3. दीवाली के दिन माँ लक्ष्मी जी के पूजन के साथ गोमती चक्र रखा जाता है ऐसा करने से हमेशा माँ लक्ष्मी जी की कृपा बानी रहती है और धन प्राप्ति होती है ||

 

|| सबसे खतरनाक 8 शाबर सिद्ध मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी -जानने के लिए क्लिक करे ||

 

4. अगर किसी की कोख बांध दी गयी हो और उसको बच्चा न हो रहा हो या फिर बार बार गर्भ गिर जाता हो तो कपडे में लपेट कर गोमती चक्र उस महिला की कमर पर बांध दें ऐसा करने से बहुत जल्द बच्चा हो जायेगा ||

 

5. अगर किसी इंसान की कुंडली में सर्प दोष बनता है और वो सर्प दोष से मुक्ति प्राप्त करना चाहता है तो वो इंसान गोमती चक्र को अभिमंत्रित करके अपने गले में पहनने से काल सर्प दोष और सर्प दोष से मुक्ति पा सकता है ||

 

6. गोमती चक्र को अपने घर के अंदर दबाने से सभी तरह के वास्तु दोष दूर होते हैं ||

 

7. अपने शत्रु से पीछा छुड़वाने के लिए एक गोमती चक्र पर उसका नाम लिखकर गोमती चक्र को जमीं में गाड़ दें ऐसा करने से आपका शत्रु परास्त हो जायेगा ||

 

8. घर में अगर लड़ाई झगड़ा रहता है तो गोमती चक्र को एक सिन्दूर की डब्बी में रखकर डब्बी को घर के अंदर रख लें ऐसा करने से घर में शांति और खुशीआं बरक़रार रहती हैं ||

 

|| अगर आपका गोमती चक्र से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप निचे दिए हुए कमेंट बॉक्स में अपना सवाल पूछ सकते है ||

 

9. जिस इंसान की शादी में बाधा आ रही है या फिर शादी नहीं हो रही वो गोमती चक्र को श्री कृष्ण जी की मूर्ति के साथ रखकर सात दिन लगातार पूजा करे तो बहुत जल्दी शादी हो जाएगी ||

 

10. अगर आपकी नौकरी नहीं लग रही या फिर उन्नति नहीं हो रही तो दो गोमती चक्र अपनी जेब में रखकर इंटरव्यू दें तो आपकी नौकरी लग जाएगी या फिर अपनी जेब में रखकर कार्यस्थल जाएं तो बहुत जल्दी उन्नति हो जाएगी ||

 

कैसे गोमती चक्र को अभिमंत्रित करते हैं ??

 

अभिमंत्रित गोमती चक्र को घर में रखने से है में बरकत रहती है और घर में खुशीआं आती है || घर में गोमती चक्र रखने से घर में परिवार के लोगों में प्यार बढ़ता और कभी लड़ाई झगड़ा नहीं होता || अपने कार्यस्थल पर अभिमंत्रित गोमती चक्र रखने से व्यपार में कभी घाटा नहीं होता और अधिक मुनाफा होता है ||

 

गोमती चक्र को अभिमंत्रित करने का तरीका : –

 

1. सबसे पहले जीवित गोमती चक्र को गाये के कच्चे दूध से स्नान करवाएं ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

2. फिर उसको एक थाली में रख दे ||

 

3. थाली में थोड़े से चावल डाल दें ||

 

4. फिर गोमती चक्र पर फूल चढ़ाएं ||

 

5. उसके साथ एक आटे का दिया जलाएं ||

 

6. अब नीचे दिए गए मन्त्र को 108 जाप करें ||

 

|| मंत्र ||

 

” क्लीं क्रीं हुं क्रों स्फ्रों कामकलाकाली स्फ्रों क्रों क्लीं स्वाहा “

 

7. फिर गोमती चक्र पर चन्दन से अभिषेक करें ||

 

8. यह किर्या लगातार सात दिन तक करें ||

 

9. सातवें दिन गोमती चक्र को लाल कपडे में लपेट लें ||

 

10. अब इसे आप चाहे घर के पूजा स्थल में रखें और चाहे अपने कार्यस्थल पर रखें ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

Page 1 of 2012345...1020...Last »
error: Content is protected !!
Subscribe To Our Newsletter
Subscribe To Our NewsletterJoin our mailing list to receive the latest news and updates from our team.

You have Successfully Subscribed!

Pin It on Pinterest

Share This