Hatha jodi

 हत्था जोड़ी (Hatha jodi )

 

हत्था जोड़ी क्या है ??

 

हत्था जोड़ी एक बहुत ही दुर्लभ और चमत्कारी विरूपी नमक पौधे की जड़ को कहते है || इस जड़ का आकर ऐसा होता की जैसे इंसान के दो हत्था जुड़े हुए होते है || कई जड़ों में तो पांच पांच उंगलिओं की आकृति बानी हुई भी प्रतीत होती है || यह पौधा पुराने घने जंगलों में पाया जाता है || हत्था जोड़ी जैसे अपने आप में अद्भुत वास्तु है वैसे ही तंत्र और मन्त्र की दुनिया में इसकी बहुत विशेषता है ||

 

वैसे तो तांत्रिक क्रियाओं के लिए बहुत से चीज़े इस्तेमाल की जाती है मगर एक हत्था जोड़ी जिसको अभिमंत्रित किया गया हो उसकी तुलना में इससे अधिक शक्तिशाली और कोई चीज़ नहीं है || अभिमंत्रित हत्था जोड़ी अपने सिर्फ पास रखने से ही बहुत से कार्य अपने आप सिद्ध हो जाते है || हत्था जोड़ी को माँ काली और माँ कामाख्या देवी का रूप माना जाता है ||

 

|| नीचे हत्था जोड़ी की इस्तेमाल की पूरी विधि दी हुई है कृपा इसे इस्तेमाल करने से पहले ध्यान से पढ़ ले अन्यथा हत्था जोड़ी से
आपको मन मुताबिक़ सफलता नहीं मिलेगी ||

 

आईये जाने कौन कौन से फायदे है एक अभिमंत्रित हत्था जोड़ी को अपने साथ रखने के :

 

(1) जिसके पास हत्था जोड़ी है उसके ऊपर किसी भी तरह के जादू टोने का असर नहीं होता है ||

 

(2) वह इंसान दिन ब दिन भाग्यशाली बनता है ||

 

(3) हर तरफ से तरक्की करता है ||

 

(4) जीवन में आने वाली परेशानियों और तकलीफों से बच जाता है ||

 

(5) उसके घर में सदैव सुख और समृद्धि बनी रहती है ||

 

(6) उस इंसान पर कोई भी दुश्मन हावी नहीं हो सकता ||

 

(7) अकस्मात मृत्यु से बचा रहता है ||

 

(8) पति पत्नी में कभी अनबन नहीं होती और दाम्प्तय सुख बना रहता है ||

 

(9) बिगड़े हुए सरकारी और गैर सरकारी सभी काम अपने आप हो जाते है ||

 

(10) जिसके पास हत्था जोड़ी है वो किसी भी इंसान को अपने वश में कर सकता है ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

कैसे सिद्ध किया जाता है हत्था जोड़ी को ??

 

(1) जब आपको हत्था जोड़ी मिले तो उसे ताम्बे के पात्र में रखें ||

 

(2) फिर उसको सरसो के तेल में डूबा दें ||

 

(3) हत्था जोड़ी तेल सोखती है और जब तेल कम हो जाये तो उसमे और तेल डाल दें ||

 

(4) जब आपको लगे की अब हत्था जोड़ी तेल नहीं सोंख रही तो वो उपयोग के लिए त्यार है ||

 

(5) इसको सिद्ध करने की प्रक्रिया शुक्रवार के दिन शुरू करनी है ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

(6) शुक्रवार तक उसे तेल में ही रहने दें ||

 

(7) हत्था जोड़ी को एक चाँदी की डब्बी में रखें ||

 

(8) थोड़ा सा गंगा जल छिड़कें ||

 

(9) फिर उसके ऊपर सिन्दूर

(8) उसके ऊपर थोसे अभिषेक करें ||

 

(10) उसको अपने सामने रख लें ||

 

(11) और उसके साथ थोड़े से सफ़ेद तिल रखे ||

 

(12) अब नीचे दिए गए मन्त्र का 121 बार जाप करें ||

 

|| सबसे खतरनाक 8 शाबर सिद्ध मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी -जानने के लिए क्लिक करे ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं सरस्वतये नमः”

 

(13) फिर तिलो पर फूंक मार दें ||

 

(14) और तिलों को चाँदी की डब्बी में डाल दें ||

 

(15) यह क्रिया शुक्रवार से शुरू करके लगातार सात दिन करनी है ||

 

(16) रोज़ पुराने तिल निकालने है और लाल कपडे में इकठा करने है ||

 

(17) सातवें दिन तिलों को चलते हुए पानी में बहा देना है ||

 

(18) हत्था जोड़ी वाली चाँदी की डब्बी घर के मंदिर में रख दें ||

 

(19) रोज़ पूजा के समय डब्बी खोल दें और उसके ऊपर सिंदूर लगाएं ||

 

(20) उसके सामने अगरबत्तियां और धुप जलाएं ||

 

(21) बहुत जल्द आपको इसका असर दिखने लगेगा ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

हत्था जोड़ी वशीकरण उपयोग :

 

इस उपयोग से हम किसी भी इंसान से अपना कोई भी विशेष काम निकलवा सकते है || इस उपयोग से हम उस इंसान को पाने वश में ले सकते हैं जिससे अपना काम निकलवाना है || जब ये उपयोग किसी इंसान पर किया जाता है तो इसके प्रभाव में आकर इंसान वही करता है जो आप उसको करने को बोलते है और वो आपकी हर बात मानने के लिए तैयार रहता है और आपकी कोई बात नहीं टालता ||

 

हत्था जोड़ी वशीकरण करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले चांदी की डब्बी को खोलकर हत्था जोड़ी को अपने माथे पर लगाएं ||

 

(2) फिर हत्था जोड़ी के ऊपर थोड़ा सा सिन्दूर लगाएं ||

 

(3) अब उसके सामने अगरबत्तियां और धूप जलाएं ||

 

(4) फिर एक लाल धागा हत्था जोड़ी के ऊपर लपेट दें ||

 

(5) अब उस इंसान के पैर के नीचे से उठायी हुई एक चुटकी मिट्टी लें ||

 

(6) नीचे दिए गए मन्त्र को 51 बार जाप करें ||

 

|| जानिए कैसे करते हैं चाय पिला कर वशीकरण जानने के लिए क्लिक करें यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ॐ हाँ ग़ जू सः अमुक में वश्य वश्य स्वाहा”

 

(7) अब एक चुटकी मिट्टी को फूंक मारकर हवा में उदा दें ||

 

(8) हत्था जोड़ी के ऊपर से लाल धागा निकालकर हत्था जोड़ी को चाँदी के डब्बी में रख दें ||

 

(9) लाल धागे को अपनी दायीं कलाई पर बांधकर उस इंसान के आगे जाएं ||

 

(10) बहुत जल्द आपको असर दिख जायेगा ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

You may also like

Leave a comment

Pandit R.K. Shastri
Call:- +91 98727-18351

Email: info@panditrkshastri.com