Gidar singhi

गीदड़ (सियार) सिंघी

 

गीदड़ एक वन्य प्राणी है जिसे सियार भी कहा जाता है इस प्रजाति के बहुत सी नस्ले होती है और एक नस्ल ऐसी भी होती है जिसके माथे के ऊपर एक बहुत छोटा सा सींघ होता है जो थोड़ा सख्त होता है और उसके ऊपर भूरे और काले रंग के बाल होते हैं || इसको गीदड़ सिंघी कहा जाता है मगर सींग वाला गीदड़ बहुत हे दुर्लभ नस्ल है ||

 

गीदड़ सिंघी की ज्योतिष में बहुत ही महत्वता है क्यूंकि इसमें नकारात्मक ऊर्जाओं को ख़त्म करने और सकारत्मक ऊर्जाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने की शक्ति होती है || गीदड़ सिंघी के उपयोग से इंसान बहुत ही भाग्यशाली बन सकता है और बहुत सारा धन प्राप्त कर सकता है ||

 

अगर गीदड़ सिंघी को अभिमंत्रित कर लिया जाये तो इसकी शक्ति कई गुना बढ़ जाती है || गीदड़ सिंघी को सिन्दूर की डिब्बी में बंद करके रखा जाता है ||

 

|| नीचे दी हुई विधि को कृपा उसे इस्तेमाल करने से पहले उसे ध्यान से पढ़ लें क्योंकि इस विधि में गलती की कोई गुंजाइश नहीं है ||

 

गीदड़ सिंघी के उपयोग :

 

(1) धन और सम्पति प्राप्त करने के लिए ||

 

(2) भाग्यशाली बनने के लिए ||

 

(3) किसी भी क्षेत्र में सफलता हासिल करने ले लिए ||

 

(4) पति पत्नी के बीच की अनबन ख़त्म करने के लिए ||

 

(5) व्यवसाय में अधिक मुनाफा कमाने के लिए ||

 

(6) मनचाहा प्यार पाने के लिए ||

 

(7) किसी को भी अपने तरफ आकर्षित करने के लिए ||

 

(8) क़र्ज़ मुक्त होने के लिए ||

 

(9) कोर्ट केस में जीत हासिल करने के लिए ||

 

|| अगर आप इस विधि से जुड़ी कोई भी जानकारी या नई विधि सीखना चाहते है तो लाइक करे हमारे फेसबुक पेज को – क्लिक करे यहाँ ||

 

कैसे करते है गीदड़ सिंघी का प्रयोग??

 

गीदड़ सिंघी को उपयोग में लाने से पहले उसको अभिमंत्रित किया जाता है जिससे उसकी शक्ति कई गुना हो जाती है फिर आप उसके इस्तेमाल से अपने मन की कोई भी इच्छा पूरी कर सकते है ||

 

गीदड़ सिंघी अभिमंत्रित करने का तरीका :

 

(1) सबसे पहले अमावस्या की रात को लाल कपडे के ऊपर गीदड़ सिंघी रख लें ||

 

(2) फिर उसके ऊपर थोड़ा सा गंगाजल छिड़कें ||

 

(3) फिर गीदड़ सिंघी के ऊपर थोड़ा सा कामाख्या सिन्दूर डालें ||

 

(4) अब उसके साथ पांच लौंग और एक सुपारी रख दें ||

 

(5) गीदड़ सिंघी के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाएं ||

 

(6) अब कुछ चावल अपनी मुठी में लेकर नीचे दिए गए मन्त्र का 101 बार जाप करें ||

 

|| सबसे खतरनाक 10 शाबर सिद्ध मंत्र जो कर देंगे आपकी हर इच्छा को पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ ओम ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चै:”

 

(7) अब चावलों को गीदड़ सिंघी के ऊपर डाल दें ||

 

(8) यह क्रिया आपने तीन सोमवार लगातार करनी है ||

 

(9) तीसरे सोमवार को गीदड़ सिंघी को सिन्दूर की डिब्बी में रख लें ||

 

(10) और बाकी सामग्री किसी पेड़ के नीचे दबा देंऔर बाकी सामग्री किसी पेड़ के नीचे दबा दें ||

 

(11) हर मंगलवार को गीदड़ सिंघी को माथे पर लगाएं और उस पर सिन्दूर चढ़ाएं ||

 

|| गोमती चक्र के 10 चमत्कारी रहस्य जो कर देगें आपकी हर इच्छा पूरी – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

गीदड़ सिंघी वशीकरण उपयोग :

 

इस उपयोग से आप किसी भी इंसान को अपने वश में कर सकते है और उसके बाद उससे अपनी मर्ज़ी से कुछ भी करवा सकते है यह बहुत चमत्कारी उपयोग है जो बहुत जल्द असर करता है ||

 

गीदड़ सिंघी वशीकरण करने का तरीका :

 

(1) गीदड़ सिंघी उस इंसान की फोटो पर रख दें जिसको अपने वश में करना है ||

 

(2) उसके ऊपर थोड़ा सा सिन्दूर डाल दें ||

 

(3) अब एक निम्बू लें और अपने सर के ऊपर से सात बार घुमाएं ||

 

(4) निम्बू को गीदड़ सिंघी के साथ रख दें ||

 

(5) अब नीचे दिए गए मन्त्र को 151 बार जाप करें ||

 

|| दुनिया के 5 सबसे खतरनाक और असरदार वशीकरण मंत्र जो कर देंगे हर किसी को वश में – जानने के लिए क्लिक करे यहाँ ||

 

|| मन्त्र : ||

 

“ओम ह्रीं क्लीं अमुकी क्लेदय क्लेदय आकर्षय आकर्षय,
मथ मथ पच पच द्रावय द्रावय मम सन्निधि आनय आनय,
हुं हुं ऐं ऐं श्रीं श्रीं स्वाहा”

 

(6) अब गीदड़ सिंघी के ऊपर से सिन्दूर लेकर अपने माथे पर तिलक करें ||

 

(7) गीदड़ सिंघी को डिब्बी में रख दें और निम्बू को चौराहे में छोड़ आये ||

 

|| अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है ||

 

You may also like

Leave a comment

Pandit R.K. Shastri
Call:- +91 98727-18351

Email: info@panditrkshastri.com